Wednesday, Sep 28, 2022
-->
chaitra navratri 2022: this time full 9 days of ''''chaitra navratri''''

Chaitra Navratri 2022: इस बार पूरे 9 दिनों के ‘चैत्र नवरात्र’

  • Updated on 4/1/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। चैत्र नवरात्र की शुरूआत 2 अप्रैल दिन शनिवार से हो रही है। इस साल नवरात्र पूरे 9 दिन के हैं। चैत्र नवरात्र चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से प्रारंभ होते हैं और नवमी तक चलते हैं। दशमी तिथि को पारण किया जाता है और व्रत को पूरा किया जाता है। कई बार तिथियां घटती और बढ़ती हैं। कोई तिथि 24 घंटे से अधिक और कोई तिथि 12 घंटे से कम हो सकती है।

जब भी तिथियां सामान्य अवधि की होती हैं, तो नवरात्र 9 दिनों के होते हैं, तिथियां बढ़ती हैं तो नवरात्र 10 दिनों के हो सकते हैं और जब तिथियां घटती हैं या उनका लोप होता है, तो नवरात्र 8 या 7 दिन के हो सकते हैं।

नवरात्र यानी मां दुर्गा के 9 स्वरूपों की आराधना 9 दिन की जाती है। 9 दिनों की नवरात्रि को शुभ माना जाता है। जब नवरात्रि 10 दिन की होती है, तो वह विशेष होती है और 8 दिनों की नवरात्रि को अशुभ संकेतों वाला मानते हैं।

भक्तों के लिए चैत्र नवरात्र का बहुत धार्मिक महत्व है। हिन्दू पौराणिक कथाओं के अनुसार यही वह दिन है जब दुनिया अस्तित्व में आई थी। महाराष्ट्र में इसे गुड़ी पड़वा के नाम से जाना जाता है जबकि कश्मीर में इसे नवरेह के नाम से जाना जाता है।
 

चैत्र नवरात्र 2022 की तिथियां
- चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि, 2 अप्रैल, पहला दिन- मां शैलपुत्री की पूजा, कलश स्थापना।
- चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि, 3 अप्रैल, दूसरा दिन- मां ब्रह्मचारिणी की पूजा।
- चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि, 4 अप्रैल, तीसरा दिन- मां चंद्रघंटा की पूजा।
- चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि, 5 अप्रैल, चौथा दिन- मां कुष्मांडा की पूजा।
- चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि, 6 अप्रैल, पांचवा दिन- देवी स्कन्दमाता की पूजा।
- चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि, 7 अप्रैल, छठा दिन- मां कात्यायनी की पूजा।
- चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि, 8 अप्रैल, सातवां दिन- मां कालरात्रि की पूजा।
- चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि, 9 अप्रैल, आठवां दिन- देवी महागौरी की पूजा, दुर्गा अष्टमी।
- चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि, 10 अप्रैल, नौवां दिन- मां सिद्धिदात्री की पूजा, राम नवमी।
- चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि, 11 अप्रैल, दसवां दिन- नवरात्रि का पारण, हवन।

comments

.
.
.
.
.