Wednesday, Sep 18, 2019
chandrababu-naidu-tdp-accused-misuse-of-election-bond-targets-narendra-modi-bjp-government

चंद्रबाबू ने चुनावी बॉन्ड के दुरूपयोग का आरोप लगाया, निशाने पर मोदी सरकार

  • Updated on 5/18/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। तेदेपा अध्यक्ष और आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि चुनावी बॉन्ड का दुरूपयोग किया गया है और नोटबंदी के बाद ‘‘वोट खरीदने’’ के लिए 500 और 2000 रुपये के नए नोट लाए गए। अंतिम चरण के मतदान के एक दिन पहले नायडू यहां एक कार्यक्रम को संबोधित करने के लिए आए थे। उन्होंने जोर दिया कि 50 प्रतिशत वीवीपैट का मिलान हो सकता है। 

कांग्रेस बोली- मोदी सरकार के हाथों की कठपुतली बन गया है चुनाव आयोग

नायडू ने कहा, ‘‘500 के पुराने और 1000 रुपये के नोट को हटाने का क्या मकसद था? यह साफ है। 500 और 2000 रुपये के नए नोटों को लाकर, इसका इस्तेमाल वोट खरीदने के लिए किया जा सकता है और खासकर डाक मत के मामले में लोग हर वोट के लिए धन की अपेक्षा कर सकते हैं।'

राजभर ने भाजपा को लेकर फिर दिया विवादास्पद बयान

वह इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में एक सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे, जहां विशेषज्ञों और पूर्व नौकरशाहों ने चुनाव आयोग और चुनावी प्रक्रिया की स्वतंत्रता पर चर्चा की। राज्य सरकार की एक विज्ञप्ति में कहा गया कि नायडू ने चुनावी बॉन्ड के दुरूपयोग और नोटबंदी पर विस्तार से चर्चा की । 

अखिलेश और मायावती से मिले नायडू
केन्द्र की अगली सरकार के गठन के मकसद से गठबंधन बनाने की कवायद में तेलुगुदेशम पार्टी अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू शनिवार शाम सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती से मिले । राजधानी के चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से नायडू सीधे विक्रमादित्य मार्ग स्थित सपा कार्यालय के लिए रवाना हुए। सपा कार्यालय पहुंचने पर अखिलेश ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया । इस दौरान बडी संख्या में सपा के वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता मौजूद थे।

कैलाश सत्यार्थी ने भी #BJP प्रत्याशी प्रज्ञा सिंह को लिया आडे़ हाथ

अखिलेश ने इस मुलाकात के बारे में टवीट किया,‘‘सम्माननीय मुख्यमंत्री श्री एन चंद्रबाबू नायडू जी का लखनउ में स्वागत कर प्रसन्नता हुई ।‘‘ सपा सूत्रों ने बताया कि भाजपा के खिलाफ विपक्षी दलों का मजबूत गठबंधन तैयार करने को लेकर दोनों नेताओं के बीच संभवत: चर्चा हुई है। अखिलेश से मुलाकात के बाद नायडू सीधे मायावती के माल एवेन्यू आवास के लिए रवाना हुए, जहां बसपा सुप्रीमो ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया । दोनों नेताओं ने एक दूसरे का अभिवादन किया। नायडू ने मायावती को आंध्रप्रदेश के आम भेंट किये । मुलाकात के दौरान बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा भी मौजूद रहे।

राहुल बोले- मनमोहन का उड़ाते थे मजाक, आज देश मोदी का मजाक उड़ा रहा है

नायडू ने नयी दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, भाकपा नेता जी सुधाकर रेडडी और डी राजा, राकांपा प्रमुख शरद पवार और एलजेडी नेता शरद यादव से मुलाकात के बाद लखनऊ का रूख किया। नायडू तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी, आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविन्द केजरीवाल और माकपा महासचिव सीताराम येचुरी से कई दौर की बैठकें पहले ही कर चुके हैं । नायडू की तेदेपा पहले राजग में शामिल थी लेकिन कुछ ही महीने पहले वह गठबंधन से अलग हो गयी। 

दिग्विजय ने प्रज्ञा को लिया आड़े हाथ, बोले- गोडसे को महामंडित करना राष्ट्रद्रोह

 
Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.