Tuesday, Dec 07, 2021
-->
chandrasekhar azad asks country first or money for amit shah son bcci secretary jai shah rkdsnt

चंद्रशेखर आजाद ने पूछा- जय शाह के लिए देश पहले है या पैसा?

  • Updated on 6/19/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भीम आर्मी के चीफ व आजाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने चीन प्रकरण को लेकर केंद्र की मोदी सरकार से लेकर बीसीसीआई के सचिव व केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह पर हमला बोला है। चंद्रशेखर आजाद ने पूछा है कि जय शाह के लिए देश पहले है या पैसा? दरअसल, 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होने के बाद देश में चीन उत्पादों और कंपनियों के खिलाफ मुहिम तेज हो गई है। जबकि चीन की कंपनी वीवो आईपीएल के आयोजन की स्पोसंर कंपनी है। 

वीडियो जारी कर कांग्रेस ने पूछा- हमारे सैनिकों को दुश्मन के पास निहत्था क्यों भेजा गया?

इसी को आधार बनाते हुए चंद्रशेखर आजाद ने अपने ट्वीट में लिखा है, अमित शाह के बेटे जय शाह BCCI सेक्रेटरी हैं। BCCI ने फैसला लिया है की चीनी कंपनी VIVO देश में होने वाले आईपीएल की मुख्य प्रायोजक रहेगी और इससे भारतीय अर्थव्यवस्था मज़बूत होगी। जय शाह के लिए देश पहले है या पैसा?'

चंद्रशेखर ने अपने दूसरे ट्वीट में सेना भर्ती पर अपनी राय जाहिर की है। वह लिखते हैं, 'हमारा देश संकट काल में है सरकार तुरन्त सैनिकों की भर्ती शुरू करे। भीम आर्मी अपने एक लाख जवानों को सेना में शामिल होने के लिए भेजेगी। हमारे लोग सीमा पर सबसे आगे खड़े होंगे। इतिहास में सबसे ज्यादा देशभक्त साबित हुई चमार रेजिमेंट भी तुरन्त बहाल की जाये।'

राहुल गांधी के आरोपों पर भड़की भाजपा, कहा- राजनीति कर रही है कांग्रेस

बता दें कि विपक्ष चीन के दुस्साहस को लेकर मोदी सरकार को लगातार निशाना बना रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी कह चुकी हैं, ‘‘हम विश्वास दिलाते हैं कि संकट की इस घड़ी में कांग्रेस देश की सेना, सैनिकों, सैनिकों के परिवारों और सरकार के साथ खड़ी है। मुझे उम्मीद है कि पूरा देश एकजुट होकर इस संकट का मुकाबला करेगा।’’ 

भारत की आपत्ति के बावजूद नेपाल की संसद ने पारित किया नक्शा बदलने संबंधी विधेयक

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि प्रधानमंत्री सामने आकर देश को सच्चाई बताएं और हम सब उनके साथ खड़े हैं। राहुल ने एक वीडियो जारी कर कहा, ‘‘दो दिन पहले हिंदुस्तान के 20 सैनिक शहीद हुए। उन्हें उनके परिवारों से छीना गया है। चीन ने हमारी जमीन हड़पी है। प्रधानमंत्री जी, आप चुप क्यों हैं? आप कहां छिप गए हैं?’’ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री जी, आप बाहर आइए। पूरा देश, हम सब आपके साथ खड़े हैं। देश को सच्चाई बताइए। डरिए मत।’’     

अनुराग कयश्प ने पूछा सवाल- China में सर्जिकल स्ट्राइक allowed नहीं है क्या?

माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने पूर्व में ट्वीट किया था , ‘‘सरकार को एक आधिकारिक बयान देकर बताना चाहिए कि असल में क्या हुआ।’’ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लद्दाख में भारत-चीन सीमा की स्थिति पर चर्चा करने के लिए 19 जून को सर्वदलीय बैठक बुलाने के केंद्र के फैसले का स्वागत किया और कहा कि उनकी पार्टी संकट की इस घड़ी में देश के साथ खड़ी है। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा, ‘‘हम संकट की इस घड़ी में देश और हमारे सशस्त्र बलों के साथ खड़े हैं और सर्वदलीय बैठक बुलाने के फैसले का पूर्ण समर्थन करते हैं। तकनीकी रूप से, यह एक सही निर्णय है।’’ 

भारत-चीन सीमा विवाद से अवगत हैं डोनाल्ड ट्रंप, मध्यस्थता की योजना नहीं

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

comments

.
.
.
.
.