Thursday, Jun 24, 2021
-->
chattisgarh-cm-raman-singh-is-like-bhishma-pitamah

मंत्री बोले- CM रमन सिंह हैं महाभारत के भीष्म पितामह, हार-जीत वही तय करेंगे

  • Updated on 8/11/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। एक बड़े दर्जे के मंत्री ने ऐसी बात कही जिसे सुनकर आपको भी आश्चर्य होगा। छत्तीसगढ़ के मंत्री अजय चंद्राकर ने कहा है कि मुख्यमंत्री रमन सिंह को इच्छामृत्यु का वरदान मिला है। छत्तीसगढ़ के मंत्री अजय चंद्रशेखर ने एक कार्यक्रम के दौरान यह बात कही।

छत्तीसगढ़ के मंत्री अजय चंद्राकर ने कहा है कि मुख्यमंत्री रमण सिंह 'महाभारत' के भीष्म पितामह की तरह हैं जिनके पास चुनाव में जीत या हार तय करने की शक्ति है। वहीं कांग्रेस ने इस पर चुटकी लेते हुए भाजपा को कौरव सेना का हिस्सा बताया। चंद्राकर ने कहा, ''डॉक्टर साहब (रमण सिंह) के पास इच्छामृत्यु का वरदान है। महाभारत में कोई भी इतना सक्षम नहीं था कि वह भीष्म पितामह को हरा दे और वह अच्छी तरह से जानते थे कि उनकी मृत्यु कब और कैसे होगी।''  

मायावती बोलीं- अपने और संघ के कैडर को मुर्दा मान चुकी है BJP

उन्होंने कह, ''उनकी (भीष्म पितामह की) तरह सिर्फ डॉक्टर साहब जानते हैं कि हारेंगे या नहीं। वह अच्छी तरह से जानते हैं कि उनके साथ छत्तीसगढ़ के गरीब लोगों के प्रेम की ताकत है।'' चंद्राकर ने यह टिप्पणी मुख्यमंत्री मनरेगा मजदूर टिफिन वितरण योजना की शुरूआत के मौके पर की।

इस योजना के तहत 10.83 लाख मजदूरों को निशुल्क टिफिन बॉक्स वितरित किए जाएंगे। छत्तीसगढ़ के पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा, ''उन्हें इच्छामृत्यु का वरदान क्यों मिला? क्यों उन्होंने राज्य की सेवा करने की प्रतिज्ञा ली है।'' 

अमेरिकी स्टूडेंट स्टेटस भारतीय छात्रों को पहुंचा सकता है गहरी चोट

इस बीच, विपक्षी कांग्रेस ने मंत्री का यह स्वीकार करने के लिए धन्यवाद किया कि भाजपा का संबंध महाभारत की कौरव सेना से है, क्योंकि भीष्म पितामह ने कौरवों की ओर से पांडवो से युद्ध किया था। विपक्ष के नेता टीएस सिंहदेव ने कहा,  ''रमण सिंह की भीष्म पितामह से तुलना करके, उन्होंने कम से कम मान लिया है कि वे कौरव सेना का हिस्सा है। चंद्राकर ने खुद यह मान लिया है। क्या सही है और क्या गलत है यह स्थापित हो गया है।'' 

ऐसा माना जाता है कि करूक्षेत्र के युद्ध में दुर्योधन के नेतृत्व में कौरव अधर्म का प्रतिनिधित्व कर रहे थे जबकि युधिष्ठिर की अगुवाई में पांडव धर्म का प्रतिनिधत्व कर रहे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.