Wednesday, Dec 08, 2021
-->
chhat pooja celebration shall not be allowed in public places in delhi

छठ पूजा सार्वजनिक स्थानों पर नहीं मना सकेंगे दिल्लीवाले, रामलीला के लिए भी नियम सख्त

  • Updated on 9/30/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने छठ पूजा को लेकर निर्देश जारी किया है। जिसमें कहा गया है कि  दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों/सार्वजनिक मैदानों/नदी के किनारे, मंदिरों आदि में छठ पूजा उत्सव की अनुमति नहीं दी जाएगी और जनता को सलाह दी जाती है कि वे इसे अपने घरों में मनाएं। दिल्ली में COVID निवारक उपाय 15 नवंबर तक जारी रहेंगे।

दिल्ली: त्योहारों के बाद होगा 8वीं तक के स्कूलों को खोलने पर विचार

रामलीला आयोजन को लेकर आदेश जारी
इसके साथ ही दिल्ली में रामलीला आयोजन को लेकर आदेश जारी कर दिए गए हैं। रामलीला आयोजन के लिए कड़ी शर्तें रखी गई हैं। फेस्टिवल सीजन के दौरान मेले, फ़ूड स्टाल और झूलो की मंजूरी नहीं होगी। आयोजकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि किसी स्थान पर लोगों की संख्या कुल सीटों की संख्या से अधिक न हो, कोई स्टॉल और मेले नहीं लगाए जाएं, 100 प्रतिशत लोग मास्क पहने हों, और कुछ अन्य प्रतिबंधों के अलावा, अलग प्रवेश और निकास की व्यवस्था प्रदान की जाए। 

दिल्ली में कोविड प्रोटोकॉल के साथ रामलीला मंचन और दुर्गा पूजा को DDMA की मंजूरी

दिल्ली में पटाखों पर प्रतिबंध
वहीं इससे पहले दिल्ली में पटाखों पर प्रतिबंध लग चुका है। दिल्ली सरकार ने वायु प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए दिल्ली में सभी प्रकार के पटाखों के भंडारण, बिक्री और उनके इस्तेमाल पर एक जनवरी 2022 तक पूरी तरह रोक लगा दी है। दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) ने मंगलवार को इस बाबत आदेश जारी कर दिए।

डीपीसीसी ने आदेश जारी कर कहा कि राजधानी मे पटाखों की बिक्री व पटाखे चलाने पर एक जनवरी 2022 तक प्रतिबंध लगाया जा रहा है। सभी जिलाधिकारियों और डीसीपी को इस आदेश को सख्ती से लागू करने के निर्देश दिए गए हैं। डीपीसीसी ने सभी डीएम और डीसीपी से इस आदेश को लागू करते हुए प्रतिदिन रिपोर्ट देने को भी कहा है। करीब दो सप्ताह पूर्व दिल्ली सरकार ने जाड़ों में भारी प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए राजधानी में पटाखों के भंडारण व बिक्री पर रोक लगाने का आदेश जारी किया था।

comments

.
.
.
.
.