Thursday, Apr 09, 2020
chidambaram slams modi bjp government for making crop insurance scheme voluntary

फसल बीमा योजना को स्वैच्छिक बनाने को लेकर मोदी सरकार पर बरसे चिदंबरम

  • Updated on 2/20/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को स्वैच्छिक बनाने को लेकर बृहस्पतिवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि इससे बड़ा किसान विरोधी कदम और कुछ नहीं हो सकता। उन्होंने यह भी कहा कि फसल बीमा योजना के दायरे में अधिक भूक्षेत्र लाने की जरूरत है और इस योजना का कवरेज घटाने से लाखों किसानों के लिए भारी नुकसान का जोखिम पैदा हो गया है। 

राम नवमी से हो सकता है अयोध्या में भव्य मंदिर का निर्माण कार्य

यूपी के #BJP विधायक त्रिपाठी पर विधवा से दुष्कर्म का आरोप, FIR दर्ज

पूर्व वित्त मंत्री ने ट्वीट कर कहा, ‘‘फसल बीमा योजना में केंद्र द्वारा अपना अंशदान घटाने से ज्यादा बड़ा किसान विरोधी कदम और कुछ नहीं हो सकता।’’ दरअसल, सरकार ने बुधवार को ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ (पीएमएफबीवाई) को किसानों के लिए स्वैच्छिक बनाने का फैसला किया। 

सुब्रह्मण्यम स्वामी ने मोदी सरकार पर ही उठाए सवाल, #GST को बताया पागलपन

कांग्रेस बोली- अमीर-गरीब के बीच बढ़ती खाई, मोदी सरकार ये तोहफा लाई

इसमें अब ऐसे किसान, सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना को अपनाने या न अपनाने को स्वतंत्र होंगे, जिन्होंने फसल कर्ज ले रखा है या जो फसल कर्ज लेना चाहते हैं। सरकार का कहना है कि कुछ किसान संगठनों और राज्य सरकारों ने इस कार्यक्रम को लागू किए जाने के विषय में कुछ चिंताएं जताई थीं। उसके मद्देनजर यह निर्णय किया गया है।  

#CPI की वृंदा करात ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को बताया ‘राष्ट्रीय सर्वनाश संघ’

comments

.
.
.
.
.