Tuesday, Dec 07, 2021
-->
china-happy-with-american-violence-making-fun-of-the-internet-prshnt

अमेरिकी हिंसा से खुश हुआ चीन, इंटरनेट पर उड़ा रहे जमकर मजाक

  • Updated on 1/7/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अमेरिका में राष्ट्रपति  चुनाव 2020 (US election 2020) की लड़ाई अभी थमी नहीं है, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) लगातार चुनाव धांधली का आरोप लगा रहे हैं। चुनावी नतीजों को लेकर अमेरिकी कैपिटल बिल्डिंग में डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों द्वारा मचाए गए उत्पात ने चीन (China) को एक बार फिर से खुश होने का मौका मिल गया है। चीन में इंटरनेट पर लगातार अमेरिका हिंसा को लेकर मजाक बनाया जा रहा है और सरकार से लेकर आम लोग इसकी तुलना 2019 में हॉन्गकॉन्ग में हुए सरकार विरोधी प्रदर्शन से कर रहे हैं। 

अमेरिका में कैपिटल परिसर में बुधवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों के हंगामे की दुनिया भर के नेताओं ने निंदा की है और हंगामे की वजह से देश में उपजे हालात पर क्षोभ जताया है। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों और पुलिस के बीच बुधवार को हुई हिंसक झड़प पर चिंता व्यक्त की और कहा कि लोकतांत्रिक प्रक्रिया को गैरकानूनी प्रदर्शनों से बदलने की अनुमति नहीं दी जा सकती।

राहुल गांधी बोले- ईंधन पर भारी टैक्स वसूलकर जनता को लूट रही है मोदी सरकार

महिला की मौत से हंगामा तेज
महिला की मौत और कैपिटल बिल्डिंग में हंगामा को लेकर कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो ने कहा कि हिंसा कभी भी लोगों की इच्छा पर काबू पाने में सफल नहीं होगी। अमेरिका में लोकतंत्र को बरकरार रखा जाना चाहिए, और यह होगा। 

साथ ही ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन ने ट्वीट किया, अमेरिकी कांग्रेस में अपमानजनक दृश्य, अमेरिका दुनिया भर में लोकतंत्र के लिए खड़ा है और अब यह महत्वपूर्ण है कि सत्ता का शांतिपूर्ण और व्यवस्थित हस्तांतरण होना चाहिए।

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि, ऐसी परिस्थितियों में यह जरूरी है कि राजनीतिक नेता अपने समर्थकों को हिंसा से दूर रहने के लिए, साथ ही साथ लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं और कानून के शासन का सम्मान करने की आवश्यकता पर प्रभाव डालते हैं।

फेसबुक पर पॉर्न दिखाकर वीडियो बनाने वाले गैंग का खुलासा, 6 गिरफ्तार

ट्रंप ने अपने समर्थकों से की शांति की अपील
वहीं राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने समर्थकों से शांति की अपील की है और अपने समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा कि चुनाव में हमसे चोरी की गई, यह एक लैंड स्लाइड चुनाव था और हर कोई इसे जानता है, विशेष रूप से दूसरा पक्ष। लेकिन आपको अभी घर जाना है। हमें शांति रखनी होगी। हमारे पास कानून और व्यवस्था है। हम नहीं चाहते कि कोई आहत हो।

भारत में घुसपैठ की फिराक में LoC पार करीब 400 आतंकी, सेना अलर्ट

प्रदर्शनकारियों को काबू करने में काफी मशक्कत
बता दें कि बता दें कि अमेरिका के वाशिंगटन डीसी स्थित कैपिटल में आज नवनिर्वाचित राष्ट्रपति की चुनावी जीत की पुष्टि के दौरान ट्रंप के समर्थक कैपिटल में चल रही बहस के बीच में सीनेट चेंबर तक पहुंच गए थे। पुलिस को इन प्रदर्शनकारियों को काबू करने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। इन हालात में प्रतिनिधि सभा और सीनेट तथा पूरे कैपिटल को बंद कर दिया गया। उपराष्ट्रपति माइक पेंस और सांसदों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हुई इस झड़प में चार लोगों की मौत हो गई।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.