Saturday, Nov 27, 2021
-->
china-india-pm-narendra-modi-apple-oppo-company-move-to-india-sobhnt

भारत आ रही कंपनियों को देख बौखलाया चीन, बोला- भारत हमारा विकल्प नहीं बन सकता

  • Updated on 5/20/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वायरस ने चीन के बाजार को काफी प्रभावित किया है। जिसके बाद चीन में स्थित कारोबारी कंपनिया वहां से निकलकर नए विकल्प की तलाश कर रही हैं। ऐसे में उनके लिए भारत नया विकल्प बन सकता है। जो चीन को रास नहीं आ रहा है। ऐसे में चीन अपनी बौखलाहट अपनी सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में दिखा रहा है। उसने हाल में अपनी गुस्सा में भारत के लिए भला-बुरा कहा है। 

चक्रवाती तूफान 'अम्फान' आज सुंदरबन के तट से टकराएगा, तटीय इलाकों में होगी भारी तबाही

1000 कंपनिया निकलने का बना रही हैं प्लान
बता दें एक अनुमान के मुताबिक चीन से कम से कम 1000 कंपनिया सिमट पर अपना कारोबार भारत में लाना चाहती हैं। जिनमें से एक जर्मनी जूता कंपनी तो भारत में शिफ्ट होने का ऐलान भी कर चुकी है। ऐसे में चीन बौखला गया है और उसने अपने सरकारी अखबार में कहा है कि लॉकडाउन में भारत की अर्थव्यवस्था प्रभावित हुई है। ऐसे में वह चीन का विकल्प नहीं बन सकता। 

विशेषज्ञों का दावा- कोरोना वायरस से बचने के लिए माउथवॉश करना हो सकता है कारगार

उत्तरप्रदेश का किया जिक्र
बता दें चीन के अखबार में कहा गया है कि भारत का एक राज्य उत्तरप्रदेश ने चीन से निकलने की सोच रही कंपनियों को आकृषित करने के लिए एक टॉस्क फोर्स का गठन किया है। भारत चीन का विकल्प बनने का सपना देख रहा है वह ऐसा कभी नहीं कर पाएगा।  

अच्छी खबर! चीन से आगरा शिफ्ट हो रही जर्मन फुटवेयर कंपनी, हजारों को मिलेगा रोजगार

सीमा पर भी बड़ी तनातनी
बता दें बीते कुछ दिनों से कोरोना के कारण चीन में काम करने वाली कई बड़ी कंपनियां वहां से निकलना चाहती है। ओप्पो और एप्पल जैसी बड़ी कंपनियों ने भी ऐसे ही संकेत दिए हैं। जिसके बाद चीन बौखला गया है। अभी हाल में चीन ने सीमा पर भी उत्तर सिक्किम और लद्दाख के कई इलाकों में तनातनी की है। वहां बीते कुछ दिनों में 2 बार हिंसक झड़पे हुई हैं। जिसकी वजह से चीन की यही बौखलाहट बताई जा रही है।  

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.