Tuesday, Dec 07, 2021
-->
china india tension costom office china import sobhnt

बंदरगाहों पर फंसा चीनी सामान, कस्टम अधिकारी कर रहे कड़ी जांच

  • Updated on 6/25/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  सीमा पर भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ने और उसके बाद हुई हिंसा में भारत के 20 जवानों के मारे जाने के बाद से देश में चीन को लेकर गुस्सा अपने चरम पर है। लोग देश में चीनी सामान का बहिष्कार करने के लिए आवाज उठा रहे हैं। ऐसे में  दिल्ली एयरपोर्ट पर चीन से इर्पोट किए गए माल को कस्टम विभाग क्लीयर नहीं कर रहा है। कहा जा रहा है कि एक  वरिष्ठ अधिकारी ने आदेश दिया है कि चीन से आ रहे सामान पर विशेष ध्यान रखें क्योंकि इस जरिए देश में किसी तरह का वायरस आ सकता है।  

पतंजलि की दवा 'कोरोनिल' पर आयुष मंत्रालय ने जानकारी मांगी, आचार्य बालकृष्ण ने दिया ये जवाब

कस्टम चीफ कमिश्नर ने किया मना
हालांकि इस पूरे मामले पर दिल्ली कस्टम के चीफ कमिश्नर आलोक तिवारी का कहना है कि ऐसा कोई भी आदेश नहीं दिया गया है। नहीं किसी तरह से काम में कोई बदलाव आया है। सबकुछ पहले की तरह है। वह कहते हैं कि जिन कुछ मामलों में क्लियरेंस नहीं दे रहा है वह मामले भी सामान्य सी घटना है।  

तो Corona टेस्ट के कारण देश में पॉजिटिव की संख्या में आई उछाल...

कल रात से फैली अफवाह
वही चीन से  सामान इंपोर्ट करने वाले कई व्यापारियों के बीच  कल रात को यह अफवाह फैल गई है कि सरकार ने चीन से इंपोर्ट बंद कर दिया है। दरअसल सोमवार को अचानक कस्टम ने चीनी सामान को क्लीयर करने से रोक दिया है। जिसकी कोई ठोस वजह नहीं बताई  जा रही है। इसी का कारण व्यापारियों में यह अफवाह फैल गई ।  

जेपी नड्डा ने कहा- चीनी मसले पर गांधी परिवार का रवैया रहा नकारात्मक

मेडिकल सामान को कर रही क्लीयर
बता दें वहीं इंपोर्टरों का कहना  है कि सरकार मेडिकल सामन को तो आराम से क्लीयर कर रही है मगर  उसके अलावा अन्य सामान को  सरकार क्लीयर नहीं कर रही  है और उसे रोक रही है। वह कहते हैं कि इससे इंपोर्टर को काफी घाटा हो सकता है और वह यह परेशानी आगे और बढ़ सकती है। 
 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.