Wednesday, May 18, 2022
-->
china-investigation-pm-narendra-modi-president-cji-spying-hybrid-cyber-warfare-shenzhen-prsgnt

10 हजार भारतीयों की जासूसी करा रही है चीनी सरकार, पीएम से लेकर इन सभी का नाम है शामिल

  • Updated on 9/14/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत-चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में बढ़े तनाव को लेकर हालात गंभीर बने हुए हैं। दोनों देशों के बीच युद्द जैसे हालात पैदा हो रहे हैं, इसी दौरान चीन ने अपनी खुफियां एजेंसियों से भारत के लोगों की जासूसी करने का जिम्मा दिया है। चीन की कुछ कंपनियां भारत में पीएम से लेकर कई बड़े सेना अफसरों सहित राजनेताओं की जासूसी कर रही हैं. 

इस बारे में इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन की कंपनी शेनज़ेन भारत के 10 हजार लोगों पर नज़र रख रही है। इन लोगों में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से लेकर मेयर तक लोग शामिल हैं। इस कंपनी का सीधा संबंध चीनी सरकार और कम्युनिस्ट पार्टी से है।   

भारत और जापान ने किया ऐतिहासिक समझौता, बढ़ेगी चीन की टेंशन, पढ़े रिपोर्ट

इन लोगों के नाम हैं शामिल
बताया जा रहा है कि झेनझुआ डेटा इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी कंपनी लिमिटेड भारतीय की निगरानी कर रही है। इन 10 हजार लोगों में राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, सोनिया गांधी, पूरा गांधी परिवार, ममता बनर्जी, सीजेआई, नवीन पटनायक जैसे बड़े नेता, राजनाथ सिंह जैसे केंद्रीय मंत्री, सीडीएस (CDS) बिपिन रावत समेत कई बड़े सेना के अफसर, खिलाड़ियों, बिजनेसमैन, पत्रकारों के रिश्तेदारों की भी लिस्ट है। 

ये कंपनी सभी लोगों के सोशल मीडिया अकाउंट की जानकारी रख रही हैं। उनके सोशल मिडिया अकाउंट से परिवारों और रिश्तेदारों तक का पता लगा रही है। इसके लिए इन सभी लोगों के रियल टाइम डेटा को देखा और कलेक्ट किया जा रहा है।

चीन की महिला वीरोलॉजिस्ट ने किया खुलासा- मानव निर्मित है कोरोना वायरस, मेरे पास ठोस सबूत

चीनी सरकार के कहने पर...
अपनी रिपोर्ट में इंडियन एक्सप्रेस ने ये दावा किया है कि इन लोगों पर निगरानी रखने के लिए शेनजान इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी फर्म ने  चीनी सरकार का साथ लेते हुए ओवरसीज़ का इन्फॉर्मेशन डाटा बेस तैयार किया है। इस डेटा को कलेक्ट करने की प्रकिया को चीनी कंपनियां हाइब्रेड वॉर का नाम देती हैं।

यहां पढ़ें भारत-चीन विवाद से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

comments

.
.
.
.
.