Sunday, Aug 14, 2022
-->
china-to-deploy-surface-to-air-missile-in-lipulekh-pakistan-prsgnt

लिपुलेख में मिसाइल तैनात करने की तैयारी में चीन, मानसरोवर झील के किनारे बन रही साइट

  • Updated on 8/21/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत और नेपाल के बीच बढ़ते तनाव का चीन फायदा उठाने में लगा है। चीन ने सही मौका देखकर भारत को परेशान करने के लिए नेपाल को भड़काया और फिर अब लिपुलेख के जरिए भारत पर दबाव बनाने की कोशिश में हैं। 

एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने लिपुलेख के जरिए मिसाइल तैनात करने की तैयारी कर ली है। ये मिसाइल तेजी से हवा में मार करने में सक्षम हैं। इतना ही नहीं, चीन ने मानसरोवर झील के किनारे साइट का निर्माण भी शुरू कर दिया है ताकि मिसाइलें लगाई जा सकें। 

भारत के खिलाफ पाकिस्तान की मदद कर रहा है चीन! पाक को दे रहा है ये घातक हथियारों से लैस ड्रोन

गौरतलब है कि लिपुलेख को लेकर भारत और नेपाल के बीच टेंशन बनी हुई है। इसी टेंशन का चीन फायदा उठाने में लगा है। चीन ने भारत पर दबाव बनाने के लिए पाकिस्तान और नेपाल दोनों को अपनी झूठी दोस्ती का वास्ता देकर भारत के खिलाफ तैयार किया है और अब उसी दोस्ती की आड़ में अपना काम निकाल रहा है। 

इस बारे में Open Source Intelligence Analyst 'DetResFa' ने एक सैटेलाइट इमेज ट्वीट की है। इसमें लिखा कि चीन लिपुलेख के ट्राई-जंक्शन एरिया में मिसाइल ठिकानों का निर्माण करने में लगा है।

इस सोर्स की माने तो चीन ने लिपुलेख पर सैनिकों की तैनाती भी कर दी है। इलाके में 100 किमी के क्षेत्र में चीन की सेना भी दिखाई दे रही है। ये भी दिख रहा है कि चीन ने मानसरोवर झील के किनारे मिसाइल के लिए निर्माण कार्य कराना शुरू कर दिया है। हालांकि अभी ये पता नहीं चल सका है कि ये मिसाइलें किस तरह की है और कितनी है लेकिन क्योंकि ये क्षेत्र भारतीय सीमा के नजदीक है इसलिए भारत पर खतरा बना हुआ है। 

भारत के खिलाफ षड्यंत्र रच रहा चीन, इन देशों को एक साथ लाने की कर रहा कोशिश

बताते चले कि चीन ने लिपुलेख के आसपास एक हजार से ज्यादा सैनिकों को तैनात किया हुआ है। इसका सीधा संबंध नेपाल से है, चीन उसे दिखाना चाहता है कि वो उसके साथ है। वहीं, भारत ने लिपुलेख के पास से ही एक रूट बनाया है जो मानसरोवर यात्रा के लिए खास बनाया गया है।

यहां पढ़ें भारत-चीन विवाद से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.