विदेशी मुद्रा संकट से जूझ रहे पाकिस्तान को चीन देगा 2.5 अरब डॉलर का कर्ज

  • Updated on 2/2/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। चीन अपने सदाबहार दोस्त पाकिस्तान को विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ाने के लिये 2.5 अरब डॉलर का कर्ज देगा। एक मीडिया रिपोर्ट में शनिवार को यह जानकारी दी गयी। पाकिस्तान इस समय विदेशी मुद्रा भंडार के गिरते जाने तथा विदेशी कर्ज के बढ़ते जाने की समस्या से जूझ रहा है।

US वीजा घोटाला: भारतीय छात्रों की गिरफ्तारी पर मीडिया ने उठा सवाल

पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार गिरकर 8.12 अरब डॉलर पर आ गया है जो कि अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष और विश्वबैंक के सुझाये न्यूनतम स्तर से भी कम है। यह भंडार महज सात सप्ताह के आयात के भुगतान योग्य है। इसी कारण विश्वबैंक और एशियाई विकास बैंक पाकिस्तान को कर्ज देने से मना कर चुके हैं।

पाकिस्तानी अखबार ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ से वित्त मंत्रालय के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा, ‘‘बीजिंग केंद्रीय बैंक के पास 2.5 अरब डॉलर जमा करेगा।’’ अखबार ने कहा कि इस मदद के बाद चालू वित्त वर्ष चीन द्वारा दी गयी सहायता राशि 4.5 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगी। इससे पहले चीन ने पिछले साल जुलाई में पाकिस्तान को दो अरब डॉलर का कर्ज दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.