Thursday, Jan 27, 2022
-->
chinese-female-virologist-li-said-coronavirus-is-man-made-will-give-concrete-evidence-prsgnt

चीन की महिला वीरोलॉजिस्ट ने किया खुलासा- मानव निर्मित है कोरोना वायरस, मेरे पास ठोस सबूत

  • Updated on 9/12/2020

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। कोरोना वायरस कैसे पैदा हुआ और कहां से आया, इसे लेकर चीन पर लगातार सवाल उठते आ रहे हैं। अमेरिका से लेकर यूरोप के कई देश इस खतरनाक वायरस की उत्पत्ति के लिए चीन को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। 
इसी क्रम में अब खुद चीन की महिला वायरोलॉजिस्ट,लि-मेंग यान ने चीन को मानव निर्मित बताते हुए चीनी सरकार पर आरोप लगाए हैं। यान ने कहा है कि चीन ने ही इस वायरस को जन्म दिया था।

भारत में रोक दिया गया ऑक्सफोर्ड वैक्सीन का ट्रायल, जानिए क्या हो सकते हैं इसके परिणाम...

अमेरिका में रह रही हैं डॉ 
वायरोलॉजिस्ट लि-मेंग यान चीनी सरकार की धमकी के बाद अमेरिका में आकर रह रही हैं, कोरोना वायरस के मानव निर्मित होने का दावा किया है। उन्होंने कहा है कि उनके पास कोरोनावायरस को मानव निर्मित साबित करने के लिए पर्याप्त सबूत हैं जिसे वह जल्द पेश करेंगी। 

भारत के खिलाफ PAK-CHINA की इस साजिश को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने किया फेल

वुहान से नहीं आया कोरोना
कोरोना वुहान के मीट मार्केट से नहीं आया है क्योंकि यह मीट मार्केट एक स्मोक स्क्रीन है, जबकि यह वायरस प्रकृति की देन नहीं है। यह खतरनाक वायरस वुहान के लैब से आया है और यह मानव निर्मित है। इस वायरस का जीनोम अनुक्रम एक मानव फिंगर प्रिंट की तरह है और इसके आधार पर ही वे साबित कर देंगी कि यह एक मानव निर्मित वायरस है।

धमकी मिलने पर छोड़ा चीन 
चीन की महिला वायरोलॉजिस्ट ने कहा कि इस दौरान उन्होंने चीन सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि धमकी के बाद मैं हांगकांग छोड़कर अमेरिका चली गई लेकिन मेरी सारी निजी जानकारी सरकारी डेटाबेस से मिटा दी गई और मेरे साथियों से मेरे बारे में अफवाह फैलाने के लिए कहा गया। 

उन्होंने ये भी कहा कि सरकार मुझे झूठा साबित करने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रही है और हत्या करने तक का आरोप लगा रही है, लेकिन मैं अपने लक्ष्य से पीछे हटने वाली नहीं हूं।

इतिहास में पहली बार इंसान के शरीर में अपने-आप ठीक हुआ HIV, जानें कारण

बढ़ेंगी चीन की मुश्किले
कोरोना की उत्पत्ति को लेकर शुरूआत से ही दुनिया के सभी देश चीन को जिम्मेदार ठहराते आ रहे हैं। हालांकि चीन इससे साफ इनकार करता आया है लेकिन चीनी वैज्ञानिक का ये दावा निश्चित तौर आने वाले दिनों में चीन की मुश्किले बढ़ा सकता है। मुमकिन है कि अमेरिका चीन पर कड़ी कार्रवाई करने के लिए जल्द ही योजना बना ले और डॉ यान को आधार बना कर चीन को वैश्विक रूप से घेरने की तैयारी कर लें।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.