Friday, Jul 01, 2022
-->
chinese guests will no longer be able to stay in delhi hotels albsnt

दिल्ली के दरवाजे बंद! राजधानी के होटलों में अब नहीं ठहर सकेंगे चीनी मेहमान, हुई घोषणा

  • Updated on 6/25/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। चीन (China) के खिलाफ गुस्सा देश भर में बढ़ता जा रहा है। इसी कड़ी में अब दिल्ली के होटलों और गेस्ट हाउस के दरवाजे चीनी मेहमानों के लिये फिलहाल बंद करने की घोषणा की गई है। इस बाबत दिल्ली होटल एंड गेस्ट हाउस ओनर्स एसोसिएशन (धुर्वा) ने यह जानकारी दी है। इस संगठन के महामंत्री महेंद्र गुप्ता मे अपने एक बयान में कहा है कि अब से राजधानी के किसी होटल में चीनी यात्रियों को ठहरने की इजाजत नहीं मिलेगी।

अरविंद केजरीवाल ने केंद्र से कहा- कोरोना जांच के लिए मरीजों को जबरन अस्पताल ले जाना हिरासत जैसा

भारतीय सेनाओं पर चीन ने किया धोखे से हमला

उन्होंने कहा कि सीमा पर निहत्थे भारतीय सेना पर जिस तरह से धोखे से हमला हुआ उससे हम सभी मर्माहत है। इससे पहले कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने चीनी सामानों का बहिष्कार का अभियान चला रखा है। जिसे देश भर में भारी समर्थन लोगों का मिल रहा है। हालांकि कैट ने ही पहल करके दिल्ली के होटल मालिकों से इस तरह के अभियान के शुरुआत करने की मांग की थी। जिसमें चीनी मेहमानों को दिल्ली के बजट होटलों में नहीं ठहराया जा सकें। 

दिल्ली: रेलवे आइसोलेशन कोच में पहुंचा कोरोना का पहला मरीज, पीयूष गोयल ने दी जानकारी

देश भर में चीन के खिलाफ गुस्सा

मालूम हो कि दिल्ली में मौजूदा समय में लगभग 3000 बजट होटल और गेस्ट हाउस हैं। वहीं 75,000 कमरें है। बीते दिनों पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में भारतीय सेना और चीनी सेना के बीच हिंसक झड़प हुई। जिसके बाद 20 बारतीय सैनिक शहीद हुए तो 540 से भी ज्यादा चीनी सैनिक मारे गए। उसके बाद से ही देश में चीन को लेकर काफी रोष व्याप्त है। उधर कैट के के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने दिल्ली के होटलों में चीनी मेहमानों को न ठहराने का स्वागत किया है।


यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.