Tuesday, Sep 28, 2021
-->
chirag paswan removed from post of national president ljp pashupati paras command rkdsnt

चिराग पासवान LJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाए गए, चाचा पारस हुए पार्टी में हावी

  • Updated on 6/15/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। लोक जनशक्ति पार्टी में चिराग पासवान को चारों खाने चित होना पड़ा है। लोक जनशक्ति पार्टी में सियासी खिंचतान के बीच चिराग को राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद से भी हटा दिया गया है। साथ ही संसदीय दल के नेता के रूप में भी उन्हें हटा दिया गया है। ऐसे में चाचा पशुपति कुमार पारस को पार्टी की कमान सौंपी जा सकती है। इसके साथ ही सूर्यभान सिंह को पार्टी का कार्यवाहक राष्ट्रीय नियुक्त किया गया है।

महंगे ईंधन के कारण थोक महंगाई रिकॉर्ड उच्च स्तर पर, फुटकर महंगाई में भी इजाफा

राम मंदिर ट्रस्ट के ‘घोटाले’ पर राहुल बोले- श्रीराम स्वयं न्याय हैं, उनके नाम पर धोखा अधर्म है!

पारस को समर्थन करने वाले नेताओं ने लोजपा संविधान का जिक्र करते हुए चिराग को राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद से हटाया है। उनका कहना है कि चिराग 3 पदों पर एक साथ नहीं रह सकते हैं। माना जा रहा है कि 20 जून तक पशुपति पारस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। 

अडाणी समूह के FPI खाते हुए जब्त, अडाणी एंटरप्राइजेज के शेयरों में गिरावट 

इस बीच पटना में चिराग समर्थकों ने चाचा पारस के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी है। चिराग पासवान ने भी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई है। चिराग ने भावुक ट्वीट किया, 'पापा की बनाई इस पार्टी और अपने परिवार को साथ रखने के लिए किए मैंने प्रयास किया लेकिन असफल रहा। पार्टी मां के समान है और मां के साथ धोखा नहीं करना चाहिए। लोकतंत्र में जनता सर्वोपरि है। पार्टी में आस्था रखने वाले लोगों का मैं धन्यवाद देता हूं। एक पुराना पत्र साझा करता हूं।'
 

अखिलेश यादव ने की पत्रकार की मौत के मामले की हाई लेवल जांच की मांग

comments

.
.
.
.
.