भारत और यूएई के मजबूत रिश्तों के कारण हुआ क्रिश्चियन मिशेल का प्रत्यर्पण- रवीश कुमार

  • Updated on 12/6/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा है कि भारत और यूएई के मध्य बेहतर रिश्तों की वजह से ही क्रिश्चियन मिशेल का प्रत्यर्पण संभव हो सका है। उन्होंने कहा कि तमाम कानूनी प्रक्रिया पूरी करने के बाद ही मिशेल को भारत लाया गया। उसका प्रत्यर्पण भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच सहयोग का उदाहरण है। आपको बता दें कि क्रिश्चियन मिशेल ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदे में हुए कथित घोटाले में बिचौलिए की भूमिका निभाई थी।

तूफानी चुनाव प्रचार के बाद सिद्धू की आवाज खतरे में, डॉक्टरों ने दी आराम की सलाह

उन्होंने कहा 'भारत आज चाबहार, ईरान में हुए आतंकी हमले की निंदा करता है। हम ईरान और पीड़ितों के परिवारों के लिए सरकार और लोगों के लिए शोक व्यक्त करते हैं। अपराधियों को शीघ्र ही सजा मिलनी चाहिये। आतंक के किसी भी कृत्य के लिए कोई औचित्य नहीं हो सकता है।'

लोकसभा चुनाव से पहले बढ़ी BJP की मुश्किलें, सावित्री बाई फूले ने छोड़ी पार्टी

हाल ही में खुले करतारपुर कॉरिडोर पर अपनी बात रखते हुए रवीश कुमार ने कहा,'हम इसे सिख समुदाय की लंबी मांग की पूर्ति के रूप में देखते हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि पाकिस्तान ने धार्मिक मुद्दे को राजनीतिक बनाने का प्रयास किया। हमें उम्मीद है कि करतारपुर कॉरिडोर के संबंध में पाकिस्तान ने जो घोषणाएं की थीं, वह उन्हें जल्द पूरा करेगा। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.