Thursday, Apr 09, 2020
cisce-board-examinations-postponed-due-to-corona-virus

कोरोना वायरस के कारण CISCE ने बोर्ड की सभी परीक्षाएं रद्द की

  • Updated on 3/19/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एक्जामिनेशंस (CISCE) ने अंतिम समय में लिए गए निर्णय में दसवीं और 12वीं कक्षाओं की परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं जो बृहस्पतिवार से शुरू होने वाली थी। कोरोना वायरस (Corona Virus) के प्रसार को देखते हुए यह निर्णय किया गया है।

कोरोना वायरस: बच्चों को घर से ही शिक्षा देने की तैयारी में केजरीवाल सरकार

31 मार्च तक सभी परीक्षाएं रद्द
बारहवीं कक्षा की समाजशास्त्र की परीक्षा दोपहर दो बजे से होने वाली थी और सुबह 10 बजे ही परीक्षा स्थगित करने की घोषणा की गई। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने बुधवार को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE), नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग (NIOS), विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) को आदेश दिया था कि अपनी सभी परीक्षाएं 31 मार्च तक स्थगित कर दें।

यूपी में बिना परीक्षा दिए अगली कक्षा में पहुंचे पहली से 8वीं के छात्र

सरकार से नहीं मिली है कोई निर्देश
मंत्रालय ने कहा कि छात्रों और कर्मचारियों की सुरक्षा उतनी ही महत्वपूर्ण है जितनी परीक्षा कार्यक्रम का अनुपालन करना। सीआईएससीई ने बुधवार को कहा था कि उसे सरकार से कोई निर्देश नहीं मिला है और परीक्षाएं कार्यक्रम के मुताबिक होंगी। बहरहाल बृहस्पतिवार की सुबह आधिकारिक आदेश में सीआईएससीई के मुख्य कार्यकारी गैरी अराथून ने कहा, ‘‘देश भर में कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए और अनिश्चितता एवं कयासबाजी के मद्देनजर परिषद ने छात्रों और कर्मचारियों के स्वास्थ्य का ख्याल रखते हुए आईसीएसई और आईएससी परीक्षाओं को स्थगित करने का निर्णय किया है जो 19 मार्च से 31 मार्च के बीच होनी थी।’’ 

कोरोना वायरस को लेकर सभी बोर्ड की परीक्षाएं रद्द

स्नातक नामांकन को लेकर चिंतित
उन्होंने कहा, ‘‘पुनरीक्षित तिथियां आगामी समय में बताई जाएंगी।’’ गुड़गांव के एक छात्र ने कहा कि इस तरह के अनिश्चित वक्त में परीक्षाओं में शामिल होना कठिन है। एक अन्य छात्र ने कहा, ‘‘हम समझते हैं कि स्थिति ऐसी है कि अंतिम समय में निर्णय लिया जाना है लेकिन इससे चिंता बढ़ती है। हम चिंतित हैं कि स्नातक नामांकन में स्थिति कैसी होगी।’’ स्कूलों को पहले ही 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है।

comments

.
.
.
.
.