Friday, Oct 07, 2022
-->
citizenship amendment act amit shah jharkhand rally

नागरिकता कानून में संशोधन कर सकते हैं अमित शाह! झारखंड रैली में दिए संकेत

  • Updated on 12/15/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) में मचे बवाल के बाद झारखंड (Jharkhand) में प्रचार रैली करने पहुंचे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने इस कानून में बदलाव के संकेत दिए हैं। शाह ने कहा कि 25 दिसंबर के बाद वो इस मुद्दे पर विचार करेंगे। 

इस रैली में शाह ने कहा कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से अपना धर्म बचाने आए हिंदू, बौद्ध, पारसी, जैन, ईसाई, सिख शरणार्थियों को क्या इस देश की नागरिकता नहीं मिलनी चाहिए? वो सालों से प्रताणना सहते आए हैं। सालों से बिना किसी सुविधा के ठोकरें खा रहे लोगों को नागरिकता मिलना क्यों गलत है?

Amit Shah Jharkhand

आज झारखंड के दुमका से गरजेंगे PM मोदी, सोमवार को होगा चौथे चरण का मतदान

कांग्रेस हमेशा से हिंदू मुस्लिम की राजनीति करती आई- अमित शाह
शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस हमेशा से हिंदू मुस्लिम की राजनीति करती आई है। लोगों को नागरिकता बिल के खिलाफ भड़कार कांग्रेस ने पूरे पूर्वोत्तर में आग लगाई हुई है। शाह ने पूर्वोत्तर के लोगों को आश्वासन दिया है कि उनकी सभ्यता और संस्कृति को संजोए रखने की जिम्मेदारी मोदी सरकार की है। इस बात की चिंता न करें। 

CAA के खिलाफ जामिया के छात्रों का प्रदर्शन हुआ उग्र, मीडियाकर्मियों से की मारपीट

क्रिसमस के बाद समस्याओं के निदान का आश्वासन
शाह ने कहा कि मेघालय के मुख्यमंत्री और अन्य मंत्री मुझसे मिलने आए और उन्होंने कहा कि मेघालय के लिए समस्या है, मैंने कहा कि समस्या है ही नहीं, फिर भी उनका आग्रह था कि कुछ परिवर्तन करने पड़ेंगे। शाह ने कहा कि मैंने मेघालय के मुख्यमंत्री कॉनराड संगमा (Conrad Sangma) को आश्वस्त किया है कि आप क्रिसमस मना कर फ्री हो जाएं, फिर मेघालय की जो भी समस्याएं हैं पूरी सकारात्मकता के साथ उसका समाधान निकाला जाएगा। किसी को डरने की जरूरत नहीं है।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.