cji-ranjan-gogoi-sexual-harassment-charges-congress-wants-both-sides-probe

CJI गोगोई के खिलाफ यौन उत्पीड़न आरोपों की जांच दोनों पक्षों के नजरिये से हो: कांग्रेस

  • Updated on 4/21/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य राजीव गौडा ने कहा कि प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई पर लगे यौन उत्पीडऩ के आरोपों की जांच दोनों पक्षों के नजरिये से होनी चाहिए। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि सभी संबंधित पक्षों के साथ न्याय होना चाहिए, पूरी प्रक्रियाओं का पालन हो और सीजेआई की इस चिंता की भी जांच हो कि कुछ बड़ी ताकतें इसमें शामिल हैं।

प्रज्ञा ठाकुर पर छत्तीसगढ़ में निशाना साध रहे हैं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

उच्चतम न्यायालय की एक पूर्व महिला कर्मचारी ने आरोप लगाया है कि गोगोई के ‘‘यौन पहलकदमी’’ से इंकार करने के बाद उसे सेवा से हटा दिया गया। गौड़ा ने कहा कि यह बहुत गंभीर घटनाक्रम है और यौन उत्पीड़न का मुद्दा बहुत गंभीर विषय है। यह बेहतर तरीके से पता करने की जरूरत है कि असल में क्या हुआ था।

प्रियंका गांधी वाड्रा बोलीं- देश में इतना कमजोर प्रधानमंत्री कभी नहीं रहा

कांग्रेसी नेता ने कहा कि यह सुनिश्चित होना चाहिए कि शिकायतकर्ता के साथ न्याय हो क्योंकि उसका दावा है कि उसके परिवार को परेशान किया गया। उन्होंने कहा कि इसी के साथ, सीजेआई के इस बयान पर भी विचार होना चाहिए कि यह विषय ऐसे समय सामने आया है जब उनकी अध्यक्षता वाली पीठ महत्वपूर्ण मामलों में सुनवाई करने वाली है।

दिग्विजय का RSS पर निशाना, बोले- संघ का हिंदुत्व जोड़ता नहीं, तोड़ता है

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.