Friday, May 27, 2022
-->
cm kejriwal said - will soon remove the corona restrictions

CM केजरीवाल ने कहा- जल्द ही कोरोना प्रतिबंधों को हटाएंगे

  • Updated on 1/25/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। मुख्यमंत्री ने आज सभी देश और दिल्लीवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि पिछले 2 साल से देश और दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है। देश में अभी तीसरी लहर चल रही है लेकिन दिल्ली में ये 5वीं लहर है और सबसे ज्यादा कोरोना की मार दिल्ली वालों ने झेला है।दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार नहीं चाहती कि लोगों की आजीविका प्रभावित हो, इसलिए जल्द से जल्द कोविड प्रतिबंधों में ढील दी जाएगी।

केजरीवाल ने दिल्ली सरकार के गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद कहा कि लोगों के स्वास्थ्य के मद्देनजर पाबंदियां लगाई गई हैं। उन्होंने कहा, कोविड से सबसे ज्यादा नुकसान दिल्ली वालों को हुआ है। हम नहीं चाहते कि आपकी आजीविका पर असर पड़े लेकिन आपका स्वास्थ्य महत्वपूर्ण है, इसलिए हमें पाबंदियां लगानी पड़ीं।’

 दिल्ली सरकार ने कोविड की स्थिति में सुधार के मद्देनजर हाल में सप्ताहांत कर्फ्यू और दुकानें खोलने की सम-विषम योजना को हटाने के लिए एक प्रस्ताव भेजा था जिसे उपराज्यपाल (एलजी) ने अस्वीकृत कर दिया था। केजरीवाल ने कहा, पिछले हफ्ते कुछ व्यापारी आए थे और उन्होंने कहा कि उन्हें सम- विषम योजना और सप्ताहांत कर्फ्यू के कारण बहुत समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। उपराज्यपाल कुछ प्रस्तावों पर सहमत हुए और कुछ पर सहमत नहीं हुए। हम इन प्रतिबंधों को जल्द से जल्द हटा देंगे।’

समारोह में अपने भाषण के दौरान, मुख्यमंत्री ने कहा कि वह बाबा साहेब आम्बेडकर और भगत सिंह से सबसे अधिक प्रभावित हैं, जिन्होंने एक समान सपनों और लक्ष्यों के लिए अलग- अलग रास्ते अपनाए। केजरीवाल ने अमीर या गरीब सभी बच्चों के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के आम्बेडकर के सपने को पूरा करने का संकल्प लिया। उन्होंने यह भी घोषणा की कि दिल्ली सरकार के हर कार्यालय में आम्बेडकर और भगत सिंह की तस्वीरें लगाई जाएंगी।

दिल्ली में 100% लोगों को पहली डोज दी जा चुकी है और 82% लोगों को दूसरी डोज दी गई है। मुझे लगता है ये पूरे देश और दुनिया में एक रिकॉर्ड है। बूस्टर डोज भी बहुत तेजी से लग रही है। हम जल्द ही कोरोना प्रतिबंधों को हटाएंगे। दिल्ली के लोग,ऑफिसर,डॉक्टर ने जिस धैर्य के साथ इस महामारी का सामना किया है वो काबिले तारीफ है।

ओमिक्रोन बहुत तेजी से फैलता है, लेकिन हल्के लक्षण हैं। 13 जनवरी को करीब 29,000 केस आए थे और दूसरी लहर में भी लगभग इतने केस थे। 29,000 केस के समय हमारे 2,500 से 3,000 बेड भरे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.