Wednesday, Oct 27, 2021
-->
cm kejriwal went on vipassana meditation for 10 days kmbsnt

10 दिन तक किसी के संपर्क में नहीं रहेंगे CM केजरीवाल, मोबाइल, टीवी, अखबार सब से बनाई दूरी

  • Updated on 8/30/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल रविवार से 10 दिन के लिए विपश्यना ध्यान के लिए गए हैं। 10 दिन के इस शिविर के दौरान केजरीवाल के पास न ही माेबाइल, टीवी होगा और न ही वह अखबार ही देख सकेंगे। मुख्यमंत्री इस बार विपश्यना के लिए जयपुर गए हैं।

पूर्व में भी कई बार केजरीवाल विपश्यना ध्यान के लिए जा चुके हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट किया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का जयपुर आगमन पर स्वागत करता हूं। आपने मेरे स्वास्थ्य की जानकारी लेकर शुभेच्छाएं दीं इसके लिए आपका धन्यवाद। राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे खुशी है कि आपने विपश्यना एवं स्वास्थ्य लाभ के लिए राजस्थान को चुना। मैं आपके अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं।

पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए बसपा ने फगवाड़ा से घोषित किया अपना प्रत्याशी 

पहले भी विपश्यना शिविरों में भाग ले चुके हैं केजरीवाल 
महाराष्ट्र के इगतपुर व  हिमाचल प्रदेश के धर्मकोट सहित कई विपश्यना शिविरों में पहले भी केजरीवाल 10 दिवसीय विपश्यना शिविरों में भाग ले चुके हैं। केजरीवाल ने साल 2014 के लोकसभा चुनाव और साल 2013 के दिल्ली विधानसभा चुनाव के अपने बेहद व्यस्त चुनाव प्रचार के दौरान भी विपश्यना के लिए समय निकाला था, अवकाश लेकर वे दस दिनों के लिए शिविरों से जुड़े थे। राजनीति में आने से पूर्व भी केजरीवाल विपश्यना शिविरों में जाते रहे हैं।

केजरीवाल की रुचि प्राकृतिक चिकित्सा में
साथ ही केजरीवाल की रुचि प्राकृतिक चिकित्सा में भी रही है। बेंगलुरु के नेचुरौपैथी सेंटर में भी केजरीवाल जा चुके हैं। केजरीवाल की अनुपस्थिति में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया उनका दायित्व संभालेंगे। सिसोदिया भी अलग-अलग विपश्यना ध्यान शिविरों में जाते रहे हैं। बता दें कि विपश्यना ध्यान शिविर के दौरान साधक बाहरी दुनिया से पूरी तरह से कट जाता है। दिनभर शिविर में ध्यान करते हुए ही बिताना पड़ता है और किसी से भी बातचीत की इजाजत नहीं होती है। ऐसे में न बाहरी लोगों को साधक के बारे में पता होता है और न ही साधक को दुनिया की कोई खबर होती है। 

स्वतंत्रता के 75वें साल के जश्न के लिए जारी पोस्टरों से नेहरू गायब, ICHR ने दी सफाई

क्या है विपश्यना 
विपश्यना प्राचीन ध्यान पद्धति है। यह आत्मशुद्धि और आत्मनिरीक्षण की एक पद्धति है। कहा जाता है कि भगवान बुद्ध को विपश्यना के जरिए ही बुद्धत्व हासिल हुआ था। इसमें पहले सांसों पर ध्यान केंद्रित किया जाता है, फिर दूसरे चरण में चुपचाप अपने शरीर और मन की प्रतिक्रियाओं पर नजर रखी जाती है। इससे मन को शांत करने, तनाव कम करने, नकारात्मकता को दूर करने जैसे कई लाभ हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.