Friday, May 27, 2022
-->
cm yogi adityanath targeted the former chief ministers of the state

19वीं बार नोएडा पहुंचे CM योगी- इस अंधविश्वास को लेकर पहले के मुख्यमंत्रियों पर बरसे

  • Updated on 1/20/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा स्थित राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) के कोविड कंट्रोल रूम का जायजा लिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने मरीजों को दी जा रहीं चिकित्सीय सुविधाओं को परखा। इसके बाद सीएम योगी ने प्रेसवार्ता कर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों पर निशाना साधा।

विधानसभा चुनाव के बीच मुख्यमंत्री कोविड की तीसरी लहर में स्थिति का जायजा लेने बुधवार को ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान और क्यामपुर गांव पहुंचे। कोविड के दौरान अपनी सरकार के कार्यो को गिनाते हुए उन्होंने विरोधी दलों पर हमला किया। उन्होंने गौतमबुद्ध नगर से प्रदेश की जनता को संदेश देते हुए कहा कि पूर्व के मुख्यमंत्री गौतमबुद्ध नगर में आने से सिर्फ इसलिए संकोच करते थे कि कहीं उनकी कुर्सी न चली जाए।

उन्हें सिर्फ अपने जीवन और सत्ता की चिता थी। जनता के लिए कोई काम नहीं किया। जनता के लिए उनके पास एजेंडा नहीं था। जनता के आर्थिक उन्नयन के लिए भी उन्होंने कुछ नहीं किया। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि वे कई बार गौतमबुद्ध नगर आ चुके हैं और जनता के हित में किए जा रहे कार्यो का निरीक्षण कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि कोविड की पहली व दूसरी लहर में केंद्र व प्रदेश सरकार ने मिलकर बेहतरीन काम किया है। तीसरी लहर में कोविड मरीजों के लिए इंतजाम का जायजा लेने के लिए फिर से आए हैं।

पहले के मुख्यमंत्री यहां आने से थे डरते 

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यहां आना मेरे लिए इसलिए और भी जरूरी हो जाता है क्योंकि पहले के मुख्यमंत्री यहां आने से डरते  थे। उनको यहां आने से सत्ता से बाहर हो जाने डर लगता था। उनके लिए स्वयं का जीवन और सत्ता महत्वपूर्ण होती थी। लेकिन जनता के हितों के लिए उनके आर्थिक उन्नयन के लिए इन नेताओं के पास एजेंडा नहीं था, इसलिए वह ऐसा करते थे। मुझे कई बार यहां आने का मौका मिला है। इस दौरान उन्होंने वैक्सीनेशन को लेकर ज्यादा जोर दिया।

सीएम योगी के सरकारी दौरे से बना सियासी माहौल

सीएम योगी के इस दौरे का प्रोग्राम मंगलवार को ही अचानक से बना था और इस दौरे को सरकारी दौरा करार दिया गया था, जिसके संबंध में पार्टी कार्यकर्ताओं को कोई सूचना नहीं दी गई थी और पार्टी के कार्यकर्ताओं को दौरे में सम्मिलित भी नहीं किया गया। लेकिन इस सरकारी दौरे से बने सियासी माहौल को भाजपा के नेता अपने लिए लाभदायक मान रहे हैं। 

सीएम का जिले में 19वां दौरा 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश की सत्ता पर काबिज होने के बाद से ही मिथक तोड़ते आ रहे हैं। अपने इस कार्यकाल के अंतिम दौरे में वह इस संदेश को देने से भी नहीं चूके कि वह नोएडा आने से नहीं घबराए और बार-बार नोएडा आए।

उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि पूर्व के मुख्यमंत्री यहां पर एक डर से नहीं आते थे कि उनका कार्यकाल पूरा नहीं होगा, लेकिन वह अपना कार्यकाल भी पूरा कर रहे हैं और बार-बार यहां पर आते भी रहे हैं। मार्च 2017 में प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद वह 25 दिसंबर 2017 को सबसे पहले नोएडा आये थे। उसके बाद से लेकर अभी तक वह 18 बार गौतमबुद्धनगर जिले में आ चुके हैं और बुधवार को यह उनका 19 वां दौरा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.