Monday, Dec 06, 2021
-->
collegium recommends nine names for appointment to supreme court rkdsnt

कॉलेजियम ने की सुप्रीम कोर्ट में नियुक्ति के लिए 9 नामों की सिफारिश

  • Updated on 8/18/2021

नई दिल्ली / टीम डिजिटल। उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को कहा कि प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) एन वी रमण की अध्यक्षता वाले कॉलेजियम ने सर्वोच्च अदालत में न्यायाधीश के रूप में नियुक्ति के लिए केंद्र को नौ नामों की सिफारिश की है जिनमें उच्च न्यायालय की तीन महिला न्यायाधीशों के नाम शामिल हैं। न्यायालय ने एक बयान में कहा कि कॉलेजियम ने 17 अगस्त को हुई अपनी बैठक में सर्वोच्च अदालत के न्यायाधीशों के रूप में पदोन्नति के लिए विभिन्न उच्च न्यायालयों के चार मुख्य न्यायाधीशों के नामों की सिफारिश की है। 

मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में स्वीकारा कि पेगासस का इस्तेमाल हुआ : चिदंबरम

उनके अलावा कॉलेजियम ने कर्नाटक उच्च न्यायालय की जस्टिस बी वी नागरत्ना, केरल उच्च न्यायालय के जस्टिस सी टी रवि कुमार, मद्रास उच्च न्यायालय के जस्टिस एम एम सुंदरेश और गुजरात उच्च न्यायालय की जस्टिस बेला त्रिवेदी के नामों की भी सिफारिश की है। कॉलेजियम ने बार से सीधी नियुक्ति के लिए वरिष्ठ अधिवक्ता और पूर्व अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल पी एस नरसिम्हा के नाम की सिफारिश की है। अगर उनके नाम को मंजूरी मिलती है तो वह ऐसे छठे वकील होंगे। 

केंद्र की सुप्रीम कोर्ट में दलील- जजों के लिए राष्ट्रीय स्तर का सुरक्षा बल बनाना प्रैक्टिकल नहीं

जिन चार मुख्य न्यायाधीशों के नामों की सिफारिश की गयी हैं उनमें जस्टिस अभय श्रीनिवास ओका (कर्नाटक उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश), जस्टिस विक्रम नाथ (गुजरात उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश), जस्टिस जितेंद्र कुमार माहेश्वरी (सिक्किम उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश) और तेलंगाना उच्च न्यायालय की मुख्य न्यायाधीश हिमा कोहली शामिल हैं। 

राकेश अस्थाना की नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर नोटिस जारी करने से कोर्ट का इनकार

जस्टिस आर एफ नरीमन के 12 अगस्त को सेवानिवृत्त हो जाने के बाद उच्चतम न्यायालय में न्यायाधीशों की संख्या कम होकर 25 हो गयी जबकि सीजेआई समेत न्यायाधीशों की स्वीकृत संख्या 34 है। बुधवार को एक और पद रिक्त हो रहा है और जस्टिस नवीन सिन्हा सेवानिवृत्त हो रहे हैं। 19 मार्च 2019 को तत्कालीन सीजेआई रंजन गोगोई की सेवानिवृत्ति के बाद शीर्ष न्यायालय में कोई नियुक्ति नहीं हुई। 

जम्मू कश्मीर : आतंकियों ने की भाजपा नेता की हत्या, विपक्ष ने जताया अफसोसपांच सदस्यीय कॉलेजियम में जस्टिस यू यू ललित, जस्टिस ए एम खानविलकर, जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ और जस्टिस एल नागेश्वर राव भी शामिल हैं। अगर इन सिफारिशों को मंजूर कर लिया जाता है तो शीर्ष न्यायालय में न्यायाधीशों की संख्या 33 हो जाएगी।  

comments

.
.
.
.
.