Monday, Oct 22, 2018

#MeToo मामलों की जांच के लिए बनाई जाएगी कमेटी: मेनका गांधी

  • Updated on 10/12/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सरकार ने मीटू कैंपेन के तहत महिलाओं से छेड़छाड़ और यौन उत्पीड़न के सामने आ रहे मामलों की जांच कराने का फैसला किया है।

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने शुक्रवार के कहा कि रिटायर्ड जज के नेतृत्व में एक कमेटी का गठन किया जाएगा, जो मीटू के तहत आने वाले मामलों की जांच करेगी।

बेअदबी घटनाओं को लेकर पंजाब के AAP विधायक फुल्का ने दिया इस्तीफा

मेनका गांधी ने कहा कि वह महिलाओं के दर्द को समझती हैं। उन्होंने आगे कहा कि इस जांच कमेटी में पूरी निष्पक्षता से जांच की जाएगी। कमेटी में सीनियर न्यायिक अधिकारी और कानून के जानकार शामिल होंगे।

सुषमा स्वराज के बाद स्मृति ईरानी ने अकबर मामले से झाड़ा पल्ला

यौन शोषण की शिकायतों से निपटने के सभी तरीकों और इससे जुड़े कानूनी और संस्थागत फ्रेमवर्क तैयार करने में यह कमिटी मदद करेगी। बहुत सी महिलाएं मीटु अभियान के तहत सोशल मीडिया पर अपने साथ हुए बर्ताव के बारे में लिख रही हैं। 

मंगलवार को श्रीमती गांधी ने कहा था कि ताकतवर पुरुष अक्सर महिलाओं के खिलाफ ऐसा बर्ताव करते हैं। महिलाओं के इन आरोपों को गंभीरता से लिया जाना चाहिये। वहीं बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने मीटू कैंपेन को लेकर कहा है कि महिलाएं अपने साथ हुए यौन अपराधों के बारे में खुलकर सामने आ रही हैं,  इसमें कोई बुराई नहीं है। पीएम मोदी को भी इस मामले पर अपना रुख स्पष्ट करना चाहिये।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.