Thursday, Aug 18, 2022
-->
congress-again-resigns-after-mj-akbar-s-statement-on-metoo-issue

#MeToo कैंपेन में फंसे एमजे अकबर के बयान के बाद कांग्रेस ने फिर मांगा इस्तीफा

  • Updated on 10/15/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर लगे यौन शोषण के आरोपों को लेकर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला। पार्टी का कहना है कि अकबर पर पीएम की चुप्पी अस्वीकार्य है। सरकार के मुखिया के नाते उन्हें इन मुद्दों पर बोलना चाहिए। कांग्रेस ने कहा कि जो हो रहा है वो साफ नजर आ रहा है, लेकिन ये अस्वीकार्य है। कांग्रेस ने सवाल किया कि क्या सरकार 'यौन कुंठितों' को बचा रही है? इसके साथ ही कांग्रेस ने एमजे अकबर के इस्तीफे की मांग की।

केंद्रीय मंत्री एम. जे. अकबर के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों से जुड़े सवाल पर शर्मा ने कहा कि इस मुद्दे पर भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की चुप्पी अस्वीकार्य है। शर्मा ने कहा कि सरकार के प्रमुख के नाते उन्हें इस मुद्दे पर बोलना चाहिए। शर्मा ने कहा कि इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री बोलें, देश अपने प्रधानमंत्री को उनके कार्यों से परखे। अब तक उनकी चुप्पी स्पष्ट है।

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत, PM मोदी तेल कंपनियों के प्रमुखों के साथ करेंगे बैठक

बता दें कि विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर ने मी टू अभियान के तहत उन पर लगाए गए यौन दुर्व्यवहार के आरोपों को झूठे और बेबुनियाद बताते हुए कहा कि आम चुनाव के पहले इस प्रकार के आरोप छवि को खराब करने के लिए लगाए जा रहे हैं और वह जल्द ही इस बारे में कानूनी कार्रवाई करेंगे। अकबर ने अफ्रीका की यात्रा से लौटने के बाद अपने निवास से इस विषय पर एक बयान जारी किया। उन्होंने बयान में कहा कि प्रमाण के बिना आरोप लगाने का सिलसिला तेजी से चल रहा है। जो भी मामला है, उनके वकील इन झूठे और बेबुनियाद आरोपों पर आगे की कानूनी कार्रवाई के बारे में निर्णय लेंगे।

यूपी में हुआ गुजरात के सीएम का विरोध, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिखाए काले झंडे

उन्होंने इस मी टू अभियान पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘आम चुनाव के कुछ महीने पहले यह तूफान क्यों उठाया गया है? क्या कोई एजैंडा है? आप इसका निर्णय कीजिए।’ उन्होंने कहा कि इन झूठे, बेबुनियाद और बेकार के आरोपों से उनकी प्रतिष्ठा और साख को जो क्षति हुई है, उसकी भरपाई नहीं हो सकती है। झूठ के पैर नहीं होते पर उसमें जहर जरूर होता है जो उन्मादी तूफान खड़ा कर सकता है। उन्होंने कहा कि इस विवाद से वह बहुत आहत हुए हैं और वह समुचित कानूनी कार्रवाई करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.