Thursday, Sep 23, 2021
-->
congress appoints senior leaders including gehlot baghel  observers for elections rkdsnt

कांग्रेस ने गहलोत, बघेल समेत नेताओं को चुनावों के लिए बनाया वरिष्ठ पर्यवेक्षक

  • Updated on 1/6/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस (Congress) ने असम, पश्चिम बंगाल, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी के विधानसभा चुनावों में चुनाव अभियान प्रबंधन एवं समन्वय के लिए कई वरिष्ठ पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की है जिनमें राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत , छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पार्टी के कई अन्य वरिष्ठ नेता शामिल हैं।  पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी बयान के मुताबिक, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने वरिष्ठ पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की जो संबंधित राज्यों के प्रभारियों के साथ निकट समन्वय में काम करेंगे। 

PMC बैंक धन शोधन मामले में ED ने संजय राउत की पत्नी को फिर किया तलब

असम विधानसभा चुनाव के लिए भूपेश बघेल और वरिष्ठ नेता मुकुल वासनिक एवं शकील अहमद खान, केरल विधानसभा चुनाव के लिए अशोक गहलोत और वरिष्ठ नेता लुईजिनो फ्लेरियो एवं जी परमेश्वर तथा पश्चिम बंगाल के लिए वरिष्ठ नेता बीके हरि प्रसाद और पंजाब सरकार के मंत्री विजय इंदर सिंघला एवं झारखंड सरकार के मंत्री आलमगीर आलम को वरिष्ठ पर्यवेक्षक बनाया गया है। 

किसान आंदोलन : कृषि कानूनों के खिलाफ मामले का सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में टली

इसके साथ ही, तमिलनाडु एवं पुडुचेरी विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वीरप्पा मोइली, एमएम पल्लम राजू और महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नितिन राउत को वरिष्ठ पर्यवेक्षक की जिम्मेदारी दी गई है। गौरतलब है कि असम , पश्चिम बंगाल , केरल , तमिलनाडु और पुडुचेरी में अप्रैल - मई में विधानसभा चुनाव होना है।   

महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष में बदलाव की अटकलें
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के महाराष्ट्र प्रभारी एच के पाटिल ने ‘एक व्यक्ति एक पद’ की नीति के मद्देनजर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोराट के स्थान पर किसी अन्य की संभावित नियुक्ति के लिए यहां के कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से चर्चा की है। थोराट इस समय महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष के साथ-साथ महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार में राजस्व मंत्री भी हैं। वह कांग्रेस विधायक दल के नेता की जिम्मेदारी का भी निर्वहन कर रहे हैं। 

सेंट्रल विस्टा पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से खुश सुब्रमण्यम स्वामी, टाटा पर उठाए सवाल

दो दिवसीय दौरे पर आए पाटिल ने महाराष्ट्र में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण से मंगलवार रात को सहयाद्रि अतिथि गृह में चर्चा की और उसके बाद पार्टी की राज्य इकाई में बदलाव के लिए थोराट के साथ बैठक की। उन्होंने बुधवार सुबह राज्य के लोक निर्माण मंत्री अशोक चव्हाण से भी मुलाकात की। कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि बैठक के दौरान पार्टी की मौजूदा स्थिति और इसे दोबारा ताकतवर बनाने के उपायों पर चर्चा की गई। 

किसान आंदोलन के बीच मोदी सरकार ने किया संसद के बजट सत्र का ऐलान

सूत्र ने बताया, ‘‘ऐसा लगता है कि एक व्यक्ति एक पद के फार्मूले को लागू किया जाएगा। थोराट के पास महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष या एमवीए सरकार में मंत्री पद में से किसी एक पर बने रहने का विकल्प था’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन उन्होंने (थोराट) ने संगठन के पद को छोडऩे की इच्छा जताई है।’’ महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष के पद की दौड़ में गुजरात के लिए कांग्रेस के प्रभारी महासचिव राजीव सातव, महाराष्ट्र सरकार में मंत्री अमित देशमुख, यशोमति ठाकुर, विजय वडेट्टीवार और विश्वजीत कदम शामिल हैं।  

मोदी सरकार से 8वें दौर की वार्ता से पहले किसानों ने आंदोलन को दी रफ्तार

 

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.