Thursday, Jan 20, 2022
-->
congress asks 10 questions to pm narendra modi regarding bihar elections pragnt

बिहार चुनाव को लेकर कांग्रेस ने PM मोदी से पूछे 10 सवाल

  • Updated on 10/23/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) के पहले चरण की वोटिंग में अब कुछ ही दिन बाकी है। चुनावी रण में जान फूंकने के लिए सभी दिग्गज मैदान में उतर गए हैं। इस कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज बिहार (Bihar) के सासाराम में अपनी पहली रैली की। इस दौरान पीएम मोदी ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। अब रैली को लेकर कांग्रेस (Congress) ने पीएम मोदी से 10 सवाल किए हैं। 

शिवसेना का BJP पर हमला, कहा- पहले धर्म के नाम पर बांटते थे, अब वैक्सीन के नाम पर

पीएम की रैली को लेकर कांग्रेस का हमला
रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) ने ट्वीट कर कहा कि बिहार की पवित्र धरती पर 12 करोड़ बिहारियों को बरगलाने-भटकाव-बंटवारे को परोसने और जुमले गढ़ने के लिए आज श्री नरेंद्र मोदी आए हैं। उन्होंने कहा कि 2015 चुनाव में 'बिहार के स्वाभिमान की बोली लगाने' का दुस्साहस करने वाली भाजपा व पीएम मोदी को आज बिहार से किए भेदभाव का जवाब देना होगा।

मां दुर्गा ने किया असुर 'शी जिनपिंग' का वध, थरूर ने कहा- लगता है बंगालियों का चीन प्रेम खत्म!

PM मोदी से पूछे 10 सवाल
कांग्रेस नेता ने पीएम मोदी से बिहार से भाजपाई धोखे का जबाब मांगा है। उन्होंने अपने पहले सवाल में पूछा, '1. बिहार को 'विशेष राज्य' का दर्जा क्यों नही? 2. आपके मंत्री ने 'विशेष राज्य' का दर्जा क्यों किया खारिज? 3. नीतीश बाबू अब 'विशेष राज्य' के दर्जे पर चुप क्यों? 4. क्या आज आप इसकी घोषणा करेंगे? आज मांग माने या माफी मांगें।'

दूसरा सवाल
सुरजेवाला ने पूछा, 'बिहार के युवाओं के भविष्य पर कुठाराघात क्यों किया? पिछले चुनाव में 500 करोड़ की लागत से भागलपुर में केंद्रीय यूनिवर्सिटी बनाने की घोषणा कर वाहवाही तो खूब लूटी, पर भागलपुर की केंद्रीय यूनिवर्सिटी की एक भी ईंट क्यों नहीं लगी?'

तीसरा सवाल
कांग्रेस नेता ने कहा, 'बिहार के युवाओं को 'कौशल विकास' का झूठा सपना क्यों दिखाया? 2015 में मोदी जी की घोषणा के अनुसार 1550 करोड़ से बिहार में बनने वाली 'स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी' कहां खो गई? इसे वाराणसी क्यों ले गए?'

चौथा सवाल
'बिहार में बिजली उत्पादन को लेकर आपने झूठ क्यों बोला? बक्सर के चौसा में दस हजार करोड़ की लागत से बनने वाले 1300 मेगावॉट थर्मल पॉवर प्लांट का क्या हुआ? 5 साल में पाँच ईंट भी क्यों नही लगी?'

पांचवा सवाल
'मोदी जी द्वारा घोषणा की गई 1500 करोड़ रु. की लागत से बनने वाली पटना की सिक्स-लेन रिंग रोड कहां गुम हो गई? पांच साल में पांच इंच का भी निर्माण क्यों नही हुआ?'

Bihar Election: PM मोदी ने कहा- कृषि कानूनों बहाने बिचौलियों को बचाने की कोशिश में विपक्ष

छठा सवाल
'गंगा मैया पर मनिहारी से झारखंड में साहिदगंज को जोड़ने वाले 2000 करोड़ के पुल की घोषणा कर मोदी जी ने वाहवाही तो खूब लूटी पर इस योजना को ही खत्म क्यों कर दिया गया? बिहार के लोग भूल नही सकते,पूछ रहे हैं?' उन्होंने आगे पूछा, 'गंगा मैया के ऊपर 'विक्रमशिला पुल के बराबर' 2000 करोड़ रु. की लागत से बनने वाले पुल की एक ईंट भी क्यों नहीं लगी? गंगा मैया के ऊपर ‘एमजी पुल’ के समानांतर 3000 करोड़ की लागत से बनने वाले फोर-लेन पुल का निर्माण कहां गुम हो गया?'

सातवां सवाल
'4000 करोड़ रु. की लागत से बनने वाले बिहार में पड़ने वाले श्री राम-जानकी मार्ग तथा उत्तर प्रदेश सीमा से सिवान-मधुबनी-सीतामढ़ी-भारत नेपाल सीमा तक बनने वाली चार लेन सड़क का क्या हुआ? कहां खो गई है है वो?'

आठवां सवाल
'मोदी जी की घोषणा के मुताबिक ₹ 5,000 करोड़ की लागत से बनने वाले कोसी पुल तथा उचैत भगवती स्थान से मेसी-तरास्थन को जोड़ने वाले 5000 करोड़ की सड़क कहां खो गई? क्या जवाब देंगे?'

MP उपचुनाव से पहले शिवराज सिंह का वादा- राज्य के हर गरीब को मुफ्त दी जाएगी कोरोना वैक्सीन

नौवां सवाल
कांग्रेस नेता ने पूछा, 'मोदी सरकार ने 'सियाराम' को धोखा क्यों दिया? मोदी जी द्वारा घोषणा किए गए बिहार में रामायण सर्किट के 100 करोड़ रु. कहां गुम हो गए? क्या जबाब देंगे?'

आखिरी सवाल
रणदीप सिंह सुरजेवाला ने अपने आखिरी सवाल में पूछा, 'सीता मैया को लेकर मोदी सरकार की बेरुखी क्यों? सीतामढ़ी के पुरोना में माता सीता के 'प्राकट्य स्थल परिसर' में भगवान राम-माता सीता के जीवन पर बनने वाले संग्रहालय से मोदी सरकार ने इंकार क्यों कर दिया?'

बंगाल और असम चुनाव पर भी असर डालेंगे Bihar Election के नतीजे, पड़ेगा ये असर....

राहुल-तेजस्वी आज एक साथ करेंगे चुनाव प्रचार
बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियां जोर-शोर से चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं। इस बीच, वहीं महागठबंधन के सहयोगी दल भी प्रचार कर रहे हैं। कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव के साथ संयुक्त रैली कर प्रचार की शुरुआत करेंगे। आज राहुल, तेजस्वी के साथ नवादा जिले के हसुआ में संयुक्त रैली करेंगे, पार्टी के सदस्य ने इस बारे में जनकारी दी।

वहीं एनडीए के दल हर दिन जनसभाओं का आयोजन कर रहे हैं और प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी हैं। राहुल और तेजस्वी की रैली के दिन ही आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भी संयुक्त रैली होने जा रही है।

गुजरात को जल्द ही पीएम देंगे कई सौगात, कई परियोजनाओं का करेंगे उद्घाटन

राहुल गांधी तीनों चरणों के दौरान करेंगे रैलियां
बताया जा रहा है कि बिहार चुनाव को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष के चुनाव प्रचार के पहले दिन ही राहुल-तेजस्वी की संयुक्त रैली से यह संदेश देने की कोशिश की जा रही है कि विपक्षी दलों में पूरी तरह से एकजुटता है। वहीं वामदलों के कुछ नेता भी इसमें जुड़ सकते हैं। 

बता दें कि राहुल गांधी तीनों चरणों के दौरान रैलियां करेंगे। कार्यक्रम के मुताबिक राहुल गांधी तेजस्वी के साथ संयुक्त रैली के बाद भागलपुर जाएंगे, वहा वह एक अन्य रैली को कहलगांव में संबोधित करेंगे।

comments

.
.
.
.
.