बिहार: कांग्रेस सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी का निधन

  • Updated on 12/7/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।   बिहार किशनगंज से सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी का शुक्रवार सुबह निधन हो गया। कासमी को दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गई। कासमी किशनगंज विधानसभा सीट से कांग्रस के सांसद और वरिष्ठ नेता थे। कासमी की उम्र 76 साल थी। 

तेलंगाना: BJP की अग्निपरीक्षा, दक्षिण भारत में जड़ें मजबूत करने की कर रही कोशिश

उनके परिवार में तीन बेटे और दो बेटियां है। बता दें कि कासमी जमीयत उलेमा ए हिंद के स्टेट प्रेसीडेंट भी रह चुके हैं। वहीं 2009 में कांग्रेस से किशनगंज विधानसभा सीट जीतने के बाद 2014 के आम चुनावों में न केवल कासमी ने भाजपा के खिलाफ सीट दीती बल्कि राज्य में सबसे ज्यादा वोटों के अंतर से जीती थे। 

तेलंगाना में विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग जारी, सुबह 9.30 बजे तक 10.15 फीसदी मतदान

इसके अलावा कासमी ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के भी सदस्य थे और ऑल इंडिया मिल्ली काउंसिल के फाउंडर मेंबर भी थे। उन्होंने दारुल उलूम, देवबंद से शिक्षा हासिल की थी। वो बिहार में कई मदरसे का संचालन करते थे।

राहुल ने निधन पर दुख जताया

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी पार्टी के लोकसभा सदस्य मौलाना असरारुल हक कासमी के निधन पर दुख जताया है। गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘किशनगंज से कांग्रेस पार्टी के लोकप्रिय सांसद, मौलाना असरारुल हक साहब, के निधन की खबर सुनकर बेहद दु:ख हुआ।

उन्होंने कहा, ‘मैं असरारुल हक साहब के परिजनों के प्रति अपनी गहरी शोक और संवेदना व्यक्त करता हूँ।‘‘      बिहार के किशनगंज से सांसद का शुक्रवार तड़के दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 76 वर्ष के थे। साल 2014 में हक कांग्रेस के टिकट पर किशनगंज लोकसभा सीट से लगातार दूसरी बार सांसद चुने गए थे। वह पहली बार 2009 में यहां से चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे थे।     

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.