Sunday, Aug 07, 2022
-->
congress-channi-government-of-punjab-reduced-prices-of-petrol-and-diesel-rkdsnt

भाजपा के हमलों के बीच पंजाब की कांग्रेस सरकार ने पेट्रोल और डीजल की कीमतें घटाईं

  • Updated on 11/7/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। केंद्र के ईंधन पर उत्पाद शुल्क हटाने के कुछ दिनों बाद पंजाब में कांग्रेस की अगुवाई वाली सरकार ने राज्य में पेट्रोल और डीजल मूल्य वर्धित कर (वैट) कम कर दिया है, जिससे इनकी कीमतों में क्रमश: 10 रुपये प्रति लीटर और पांच रुपये प्रति लीटर तक की कमी होगी। पेट्रोल और डीजल की नयी दरें आधी रात से लागू होंगी। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने मंत्रिमंडल की बैठक के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए यह घोषणा की। 

नवाब मलिक का दावा - आर्यन को ‘अगवा’ करने की साजिश का हिस्सा थे NCB अधिकारी वानखेड़े

चन्नी ने कहा, ‘‘हम आधी रात से पेट्रोल की कीमत में 10 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत में पांच रुपये प्रति लीटर तक की कमी कर रहे हैं।’’ पंजाब में अभी पेट्रोल 106.20 रुपये प्रति लीटर और डीजल 89.83 रुपये प्रति लीटर है। शिरोमणि अकाली दल, भारतीय जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी उपभोक्ताओं को राहत देने के लिए राज्य सरकार से ईंधन पर कर कम करने की मांग कर रहे थे।      

पेट्रोल-डीजल पर राहत देने के बाद मुफ्त राशन योजना को आगे बढ़ाने से रुकी मोदी सरकार 

चौहान एवं तोमर ने कांग्रेस पर किया पलटवार
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन किये जाने को लेकर कांग्रेस पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासित राज्य सरकारें पेट्रोल एवं डीजल पर कर में कटौती कर जनता को राहत देने को तैयार नहीं हैं, जबकि केन्द्र एवं भाजपा नीत राज्य सरकारों ने कर एवं उपकर कम कर दिये हैं। 

राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पीएम मोदी बोले- किसी परिवार के इर्द-गिर्द केंद्रित नहीं है भाजपा

उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर कांग्रेस घडिय़ाली आंसू बहाती है और केवल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा नीत केन्द्र सरकार को कोसने का काम करती है। चौहान ने भोपाल में संवाददाताओं से कहा, ‘‘पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर कांग्रेस घडिय़ाली आंसू बहाती है। सोनिया गांधी और राहुल गांधी बताएं कि अब केंद्र सरकार ने इनकी कीमतों में कमी की है और भाजपा शासित राज्यों में वैट और अतिरिक्त कर कम कर दिए गए हैं, तो कांग्रेस शासित राज्य यह निर्णय कब लेंगे?’’ 

अंबानी के लंदन शिफ्ट होने की अटकलों को रिलायंस ने किया खारिज, भूषण ने भी कसा था तंज

इसी बीच, तोमर ने ग्वालियर में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, ‘‘केन्द्र और भाजपा शासित राज्यों ने पेट्रोल-डीजल पर टैक्स कम करके जनता को राहत दी। वहीं कांग्रेस के साथ जो नेता और उनकी सरकारें, जनता को चिल्लाकर बताती हैं, वे टैक्स कम करने को तैयार नहीं हैं।’’      उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस के इस बनावटी रोल को जनता समझ चुकी है। कांग्रेस नेता केवल केन्द्र की सरकार को कोसना चाहते हैं, लेकिन टैक्स कम करके लोगों को राहत नहीं देना चाहते। यह दोहरापन है।’’

 दिलीप घोष के बयान पर तथागत रॉय बोले- भाजपा छोड़ने की कोई योजना नहीं

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.