Sunday, May 22, 2022
-->
congress chidambaram says time to allow booster dose of anti coronavirus vaccine rkdsnt

कोरोना रोधी टीके की बूस्टर खुराक को इजाजत देने का वक्त आ गया है : चिदंबरम

  • Updated on 12/22/2021

 नई दिल्ली/टीम डिजिटल। ओमीक्रोन के बढ़ते मामलों के बीच कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 रोधी टीके की बूस्टर खुराक को अनुमति देने का समय आ गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार सीरम इंस्टीट््यूट ऑफ इंडिया के ‘‘आर्थिक हितों की रक्षा करने के गलत उत्साह में’’ लाखों लोगों को संक्रमण के खतरे की तरफ धकेल रही है। 

GST विभाग की शक्ति बढ़ी, व्यापारियों के खिलाफ सीधे शुरू कर सकेगा वसूली की कार्रवाई

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह निष्कर्ष निकालने के लिए पर्याप्त शोध और अकादमिक अध्ययन उपलब्ध हैं कि बूस्टर खुराक जरूरी है। चिदंबरम ने ट्वीट किया, ‘‘कोविशील्ड पर ‘लांसेट’ का अध्ययन जग जाने का समय है कि इसका असर तीन महीने से ज्यादा नहीं रहता। अब बूस्टर खुराक को अनुमति देने का समय आ गया है।’’ 

खड़गे ने संसद में उठाया अयोध्या भूमि खरीद का मामला, नायडू ने रोका 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि यह समय है कि फाइजर और मॉडर्ना जैसे अन्य मंजूर टीकों के इस्तेमाल की अनुमति दी जाए। चिदंबरम ने कहा, ‘‘सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के आॢथक हितों की रक्षा करने (संरक्षणवाद) के गलत उत्साह में सरकार लाखों भारतीयों को संक्रमण के खतरे की तरफ धकेल रही है।’’

पंजाब चुनाव से पहले शिरोमणि अकाली दल के नेता मजीठिया के खिलाफ लुकआउट नोटिस

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘अगर महामारी की तीसरी लहर आती है और टीकाकरण करा चुके लोग बड़ी संख्या में संक्रमित होते हैं तो सरकार को इसकी जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार रहना चाहिए।’’ ‘कोविशील्ड’ का निर्माण सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा किया जाता है। कांग्रेस सरकार की टीका संबंधी रणनीति की आलोचना करती रही है और उसने मांग की है कि टीकाकरण में तेजी लाई जाए तथा कोरोना वायरस की एक और लहर को रोकने के लिए बूस्टर खुराक प्रदान किए जाएं।

IPL की होगी आखिरी मेगा नीलामी, BCCI ने शुरू की तैयारी

प्रधानमंत्री कोविड-19 स्थिति को लेकर करेंगे बैठक 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप को लेकर नयी चिंताओं के बीच बृहस्पतिवार को देश की कोविड-19 स्थिति पर एक बैठक करेंगे।  आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि मोदी देश भर में महामारी की स्थिति की समीक्षा करेंगे। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के बुधवार को अपडेट किए गए आंकड़ों के अनुसार भारत में अब तक 15 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना वायरस के ओमीक्रोन संक्रमण के 213 मामले दर्ज किए गए हैं और संक्रमित लोगों में से 90 या तो ठीक हो गए हैं या दूसरी जगह चले गए हैं। यह मांग भी उठ रही है कि सरकार टीकाकरण करा चुके लोगों को टीकों की बूस्टर खुराक देने की अनुमति दे, जैसा कि कई देशों द्वारा किया गया है।     

पिछले 4 साल में पाक, अफगानिस्तान, बांग्लादेश के 3117 अल्पसंख्यकों को दी गई नागरिकता: सरकार

comments

.
.
.
.
.