Sunday, Jan 23, 2022
-->
congress digvijay singh say heroin case in gujarat should probed by supreme court judge rkdsnt

कांग्रेस की मांग- गुजरात में हेरोइन जब्ती मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट के जज से हो

  • Updated on 10/1/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह पर एक महीने में हेरोइन की दो बड़ी खेप पकड़े जाने के मामले की जांच उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश से करवाए जाने की मांग की है। दिग्विजय सिंह ने शुक्रवार को यहां कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय में संवाददाताओं से कहा, ‘‘उच्चतम न्यायालय के मौजूदा या सेवानिवृत्त न्यायाधीश की निगरानी में ही जांच होनी चाहिए।’’ 

टाटा संस Air India के लिए शीर्ष बोलीदाता, शाह की अध्यक्षता में GOM लेगी फैसला

उन्होंने राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) पर अविश्वास जताते हुए कहा, ‘‘एक महीने के अंतराल में दो लाख करोड़ रुपये से अधिक मूल्य की हेरोइन पकड़ी गई है। हम मांग करते हैं कि इसकी जांच उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश से करवाई जाए। केंद्र सरकार ने मामले की जांच एनआईए को सौंपी है लेकिन उस पर किसी तरह का भरोसा नहीं है।’’ 

सुप्रीम कोर्ट ने सत्याग्रह की इजाजत मांग रहे किसान संगठन से कहा - संतुलित नजरिए की जरूरत

उन्होंने बताया कि 13 सितंबर 2021 को केंद्र सरकार के अधिकारियों ने मुंद्रा बंदरगाह पर आशी ट्रेङ्क्षडग कंपनी द्वारा टेल्कम पाउडर के नाम से आयातित 3000 किलो हेरोइन पकड़ी। इसकी बाजार कीमत 21,000 करोड़ रुपये है। सिंह के अनुसार जांच में पाया गया कि इसी तरह की 25,000 किलो की एक खेप पहले आई थी जिसका कोई अता पता नहीं है। इसकी बाजार में कीमत 1.75 लाख करोड़ रुपये है। 

मोदी सरकार ने लगाया महंगाई में तड़का, प्राकृतिक गैस के दाम 62 फीसदी बढ़ाए

इस अवसर पर सिंह ने नोटबंदी व कालेधन को लेकर भी केंद्र की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर निशाना साधा। हालांकि, उन्होंने पंजाब, राजस्थान में संगठन व सरकार से जुड़े मुद्दों पर जवाब देने से इनकार किया। इस अवसर पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा भी मौजूद थे। 

गुजरात में एक करोड़ रुपये का ड्रग्स जब्त
गुजरात के एक रेलवे स्टेशन से स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) ने एक किलोग्राम मेथाम्फेटमाइन रखने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इस नशीले पदार्थ की कीमत एक करोड़ रुपये आंकी गई है। अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक एसके मिश्रा ने बताया कि खुफिया सूचना के आधार पर एनसीबी की क्षेत्रीय इकाई ने एक मादक पदार्थ तस्कर और नशीला पदार्थ लेने आए दो स्थानीय लोगों को कालूपुर रेलवे स्टेशन से बुधवार को गिरफ्तार किया। उन्होंने बताया कि मादक पदार्थ तस्कर प्रवीण भाटी प्रतिबंधित सामग्री के साथ हावड़ा-गांधीधाम ट्रेन से सफर कर रहा था और संभवत: वह उस नशीले पदार्थ को रेलवे स्टेशन पर अन्य आरोपियों को सौंपने वाला था।  

 केजरीवाल ने पंजाब में सत्ता में आने पर निशुल्क इलाज और दवाओं का किया वादा

मिश्रा ने बताया, ‘‘जैसे ही रेलगाड़ी स्टेशन पर रुकी हमने भाटी को पकड़ लिया। उसके पास से 974 ग्राम मेथाम्फेटामाइन बरामद किया गया। इसके बाद हमने सागर गोस्वामी और अब्दुल गनी को पकड़ा जो नशीला पदार्थ लेने स्टेशन आए थे।’’ उन्होंने बताया कि गनी अहमदाबाद का रहने वाला है जबकि गोस्वामी मूल रूप से बिहार का रहने वाला है। मिश्रा के मुताबिक नशीले पदार्थ की खेप पूर्वोत्तर से लाई जा रही थी। अधिकारियों के मुताबिक जब्त नशीले पदार्थ की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में करीब एक करोड़ रुपये है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.