Wednesday, Nov 13, 2019
congress jibe bjp modi govt on spg protection form sonia gandhi rahul gandhi priyanka gandhi

सोनिया, राहुल और प्रियंका गांधी की जिंदगी से खिलवाड़ कर रही है मोदी सरकार: कांग्रेस

  • Updated on 11/8/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, उनके पुत्र राहुल गांधी और पुत्री प्रियंका गांधी वाड्रा को प्राप्त विशेष सुरक्षा दल (एसपीजी) के सुरक्षा घेरे से बाहर करने के केन्द्र सरकार के फैसले को राजनीतिक प्रतिशोध से प्रेरित बताते हुये शुक्रवार को पार्टी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को राजनीतिक प्रतिशोध में कुछ नहीं दिख रहा है और सरकार इन नेताओं की जिंदगी से खिलवाड़ कर रही है। 

झारखंड में झामुमो 43, कांग्रेस 31 और राजद 7 सीटों पर लड़ेगी चुनाव

कांग्रेस नेता के सी वेणुगोपाल ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘एसपीजी सुरक्षा वापस ले कर सरकार, सोनिया गांधी, राहुल और प्रियंका की जिंदगी से खिलवाड़ कर रही है।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को निजी बदले की भावना के चलते कुछ नजर नहीं आ रहा है, इसलिये गांधी परिवार से राजनीतिक प्रतिशोध के चलते एसपीजी सुरक्षा वापस ली गई है। 

कन्हैया कुमार ने वकील-पुलिस भिड़ंत को लेकर जाहिर किए जज्बात 

अति विशिष्ट लोगों को प्राप्त एसपीजी सुरक्षा कवच की समीक्षा के आधार पर गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा वापस लेने के इस फैसले के बाद राहुल गांधी के दिल्ली में तुगलक लेन स्थित 12 नंबर सरकारी बंगले से एसपीजी का सुरक्षा घेरा हट गया और इसकी जगह केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के सुरक्षा दस्ते ने ले ली। 

प्राप्त जाकारी के मुताबिक सोनिया गांधी के दस जनपथ स्थित आवास पर भी सीआरपीएफ के सुरक्षा दस्ते की तैनाती शुरु होने के साथ ही एसपीजी का स्थान लेने की कवायद शुरु हो गयी। कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने सोनिया, राहुल और प्रियंका गांधी की एसपीजी सुरक्षा वापस लिये जाने के फैसले को चौंकाने वाला बताते हुये कहा कि यह कदम बदले की भावना के कारण उठाया गया। उन्होंने कहा कि इस फैसले से गांधी परिवार सुरक्षा संकट के दायरे में आ गया है। 

जेवर एअरपोर्ट के लिए अडाणी एंटरप्राइजेज समेत 5 कंपनियां लगाएंगी बोली

शर्मा ने कहा, ‘‘यह भूलना नहीं चाहिये कि इस परिवार के दो सदस्य, पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आतंकी हमले में जान गयी थी। परिवार को सुरक्षा देना सरकार की जिम्मेदारी है, एसपीजी सुरक्षा कवच किसी का अहसान नहीं है।’’ उन्होंने दलील दी कि संप्रग सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का सुरक्षा कवच कभी नहीं हटाया और यह उनका निधन होने तक मोदी सरकार में भी बरकरार रहा। 

कांग्रेस बोली- मोदी सरकार को अपने फैसलों पर है भरोसा तो कराए J&K में चुनाव

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने भी पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी, उनके पुत्र और पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी एवं बेटी प्रियंका गांधी को मिला एसपीजी का सुरक्षा घेरा हटाये जाने के सरकार के फैसले को बदले की कार्रवाई बताते हुये कहा कि भाजपा निजी तौर पर बदला लेने के स्तर पर उतर आयी है। पटेल ने कहा ‘‘भाजपा आतंकवादी ङ्क्षहसा में जान गंवाने वाले दो पूर्व प्रधानमंत्रियों इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के परिवार की सुरक्षा से समझौता कर रही है।’’ 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.