Thursday, Mar 30, 2023
-->
congress-leader-sachin-pilot-to-go-to-assam-for-campaigning-prshnt

चुनाव प्रचार के लिए असम दौरे पर जाएंगे कांग्रेस नेता सचिन पायलट, जानें पूरा कार्यक्रम

  • Updated on 3/26/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राजस्थान सरकार में उपमुख्यमंत्री रहे और कांग्रेस (Congress) नेता सचिन पायलट (Sachin Pilot) असम का दौरे पर जाएंगे। राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रचार के लिए कांग्रेस नेता सचिन पायलट दौरे पर जाएंगे। सचिन पायलट का ये दौरा 28 मार्च को है। पायलट को असम (Assam) और पश्चिमी बंगाल (West Bengal) चुनावों में कांग्रेस का स्टार प्रचारक बनाया गया है। असम में पायलट कांग्रेस का प्रचार करेंगे। पायलट रविवार को सुबह 10.50 बजे विशेष विमान से असम के सिलचर सिटी पहुंचेंगे जहां कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में आयोजित रोड-शो और चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। इसके बाद दोपहर 12.35 बजे करीमगंज पहुंचेंगे, करीमगंज में कांग्रेस उम्मीदवार के समर्थन में रोड शो और सभा को संबोधित करेंगे।

हाल ही में कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने एसएमएस अस्पताल पहुंचकर कोरोना वैक्सीन लगवाई है। इस दौरान एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. सुधी भंडारी मौजूद थे। अब तक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा, जलदाय मंत्री बीडी कल्ला सहित कई मंत्री और विधायक कोराना वैक्सीन लगवा चुके हैं। 

पेट्रोल, डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने से पहले खामियों को दूर करें : मोइली

कांग्रेस के अंदर काफी कंफ्यूजन
बता दें कि असम और पश्चिम बंगाल समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में देश की सबसे पुरानी पार्टी में से एक कांग्रेस के अंदर काफी कंफ्यूजन दिख रही है। कांग्रेस पार्टी ने एक तरह असम में स्त्ता की वापसी को देखते हुए ढेरों मुफ्त वाली स्कीम अपने घोषणा पत्र में देने का वादा किया है। दूसरी तरफ पार्टी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में कह रही है कि वह फ्री की स्कीम में विश्वास नहीं करती है। पार्टी को एक समय पर होने वाले दो अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग बात कर रही है।

 किसान आंदोलन के बीच भारत बंद : रेल, सड़क परिवहन पर पड़ेगा असर 

बंगाल में हुआ आठ चरणों में चुनाव
बता दें असम में तीन चरणों में चुनाव होने हैं और बंगाल में 8 चरणों में चुनाव होने वाले हैं। कांग्रेस को असम में अपनी सत्ता वापसी की पूरी उम्मीद है। इसलिए वहां कांग्रेस के पूर्व  अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार रैली कर रहे हैं। पार्टी ने वहां लोगों से वादा किया है कि उनकी सरकार आएगी तो राज्य में सीएए को लागू नहीं किया जाएगा। इसके अलावा राज्य के हर परिवार को दो सौ यूनिट मुफ्त बिजली और महिलाओं को हर माह दो हजार रुपए देने जैसी गारण्टी शामिल हैं। मगर पश्चिम बंगाल में पार्टी को रुख बिल्कुल अलग है। पार्टी ने बंगाल में अपने घोषणा पत्र में कहा है कि वह मुफ्त की स्कीमों में विश्वास नहीं करती। 

किसानों का भारत बंद शुरू, अमृतसर में प्रदर्शनकारियों ने ब्लॉक किया रेलवे ट्रैक

कांग्रेस ने बंगाल में नहीं की किसी फ्री स्कीम का वादा 
कांग्रेस ने बंगाल में अपने घोषणा पत्र का नाम 'बंगलार दिशा' नाम दिया है। पार्टी टीएमसी और बीजेपी के घोषणा पत्र को ध्यान में रखते हुए कहा है कि वह मुफ्त की स्कीमों में विश्वास नहीं करती। जिससे पार्टी के काम पर लोग सवाल उठा रहे हैं। वहीं राज्य में बीजेपी और टीएमसी ने कई मुफ्त की स्कीमों की घोषणा की है। बीजेपी ने वहां महिलाओं की मुफ्त शिक्षा, स्वास्थ्य और 8 वीं पास करने के बाद साइकिल देने की बात कही है।  

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.