Monday, May 23, 2022
-->
congress-leader-sukhpal-singh-khaira-arrested-by-ed-in-money-laundering-case-rkdsnt

कांग्रेस नेता सुखपाल सिंह खैरा को ईडी ने धन शोधन मामले में किया गिरफ्तार 

  • Updated on 11/11/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बृहस्पतिवार को पंजाब के पूर्व विधायक सुखपाल सिंह खैरा को उनके और अन्य के खिलाफ धन शोधन मामले की जांच के सिलसिले में गिरफ्तार किया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 56 वर्षीय खैरा को पंजाब में केंद्रीय जांच एजेंसी ने धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत हिरासत में लिया। खैरा को मोहाली में एक विशेष पीएमएलए अदालत में पेश किया गया जहां ईडी उनकी हिरासत का अनुरोध करेगा। 

नवाब मलिक के दामाद ने फडणवीस को 5 करोड़ रुपये का मानहानि का नोटिस भेजा

एजेंसी ने इस साल मार्च में चंडीगढ़ में खैरा, दिल्ली में उनके रिश्तेदार इंद्रवीर सिंह जोहल और उनसे जुड़े कुछ लोगों के ठिकानों पर छापेमारी की थी। ईडी ने आरोप लगाया है कि खैरा मादक पदार्थ मामले के दोषियों और फर्जी पासपोर्ट गिरोहों के ‘सहयोगी’ हैं। खैरा ने किसी भी गलत काम से इनकार किया और कहा है कि केंद्रीय एजेंसियां उन्हें निशाना बना रही हैं क्योंकि वह केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ मुखर रहे हैं। पंजाब में अगले साल की शुरुआत में विधानसभा चुनाव होने हैं। 

आजादी को लेकर कंगना की टिप्पणी पर वरूण गांधी बोले - इसे पागलपन कहूं या देशद्रोह

खैरा ने हाल में पंजाब विधानसभा से इस्तीफा दिया था। खैरा ने 2017 में पंजाब के कपूरथला जिले की भोलाथ विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी (आप) के टिकट पर विधानसभा चुनाव जीता था। उन्होंने जनवरी 2019 में अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली ‘आप’ की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया और अपनी खुद की पार्टी ‘पंजाब एकता पार्टी’ बनाई। इसके बाद वह फिर से कांग्रेस में शामिल हो गए। 

त्रिपुरा हिंसा : वकीलों, पत्रकार के खिलाफ FIR रद्द करने की गुजारिश पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

खैरा के खिलाफ मामला 2015 के फाजिल्का (पंजाब) ड्रग्स तस्करी के मामले में ईडी की जांच से संबंधित है, जिसमें सुरक्षा एजेंसियों द्वारा मादक पदार्थ के तस्करों के एक गिरोह से 1,800 ग्राम हेरोइन, 24 सोने के बिस्कुट, दो हथियार, 26 कारतूस और दो पाकिस्तानी सिम कार्ड जब्त किए गए थे। ईडी ने पंजाब पुलिस की प्राथमिकी का अध्ययन करने के बाद पीएमएलए की आपराधिक धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था। 

कासगंज में पुलिस हिरासत में युवक की मौत को लेकर योगी सरकार पर बरसीं मायावती

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.