Thursday, Jun 30, 2022
-->
congress-letter-to-sonia-gandhi-partys-deteriorating-situation-due-to-mismanagement-prshnt

कांग्रेस के दिग्गज नेता ने सोनिया गांधी को लिखा पत्र, कहा- कुप्रबंधन से पार्टी की बिगड़ रही स्थिति

  • Updated on 4/2/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को एक खुला पत्र लिख कर एक ईमानदार आत्मनिरीक्षण की मांग की है। उन्होंने पार्टी अध्यक्ष से कहा कि कांग्रेस में स्थिति इतनी बिगड़ गई है कि कई पार्टी कार्यकर्ता अब खुद को पार्टी के सदस्य के रूप में घोषित करने के लिए तैयार नहीं हैं। एआईसीसी के पूर्व सचिव रणजी थॉमस जिन्होंने अपने पत्र में स्वर्गीय अहमद पटेल, अंबिका सोनी और ऑस्कर फर्नांडीस के साथ मिलकर काम किया है, ने सोनिया को पार्टी अध्यक्ष के रूप में नर्णय लेते हुए कांग्रेस कार्य समिति (CWC) का पुनर्गठन करने के लिए कहा है।

कोरोना के U- Turn पर केंद्र का बड़ा ऐलान, कहा- देशवासियों को दी जाएगी वैक्सीन की तीसरी डोज

पार्टी को लेकर कार्रवाई की जरूरत
पेशे से वकील, थॉमस को यूपीए सरकार के दौरान अरुणाचल प्रदेश का एडवोकेट जनरल नियुक्त किया गया था। उन्होंने आरोप लगाया कि पार्टी वर्तमान में बाहर और भीतर से अप्रत्याशित चुनौतियों का सामना कर रही है जिसके लिए कुछ कार्रवाई की जाने की जरूरत है इससे पहले कि यह बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो जाए।

उन्होंने कहा आज हम एक ऐसे मंच पर आ गए हैं जहां पार्टी के कई सक्रिय कार्यकर्ता खुद को महान राजनीतिक दल के सदस्य के रूप में घोषित करने के लिए तैयार नहीं हैं, जिन्हें भारत के लिए स्वतंत्रता मिली, लेकिन मौन रहना पसंद करते हैं या अन्य पार्टियों को सम्मोहक कारणों से शामिल कर रहे हैं। थॉमस ने सोनिया से पार्टी को पुन सक्रिय और कायाकल्प करने के लिए कदम उठाने का आग्रह किया और तर्क दिया कि कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में उनकी निरंतरता ही ऐसा करने का एकमात्र तरीका है।

रिपोर्ट: महामारी के दौरान Mgnrega बना मसीहा, 11 करोड़ से अधिक बेरोजगारों को दी नौकरी

प्रिंयका गांधी का इवीएम पर सवाल
बता दें कि देश में 5 राज्यों के विधान सभा चुनाव में इस वार कांग्रेस कही नजर नहीं आ रही है। बंगाल चुनाव की बात करें तो यहां त्रिमूल कांग्रेस और बीजेपी में सीधी टक्कर देखने को मिल रहा है। वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने असम में निजी वाहन में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन ले जाये जाने से जुड़े कथित वीडियो को लेकर शुक्रवार को कहा कि इस पर निर्वाचन आयोग को निर्णायक कदम उठाने चाहिए तथा सभी राष्ट्रीय दलों को ईवीएम के उपयोग का गंभीर पुनर्मूल्यांकन’ करने की जरूत है। उन्होंने यह टिप्पणी उस वक्त की है जब सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक निजी वाहन में ईवीएम रखे होने और यह वाहन भाजपा के एक नेता का होने का दावा किया गया है।

प. बंगाल चुनाव: कूचबिहार में आज अमित शाह जनसभा को करेंगे संबोधित

भाजपा पर प्रियंका गांधी का आरोप
प्रियंका ने यह वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया, जब भी निजी वाहन में ईवीएम ले जाये जाने के वीडियो सामने आते हैं तो ये चीजें आम होती हैं कि वाहन सामान्यत भाजपा उम्मीदवारों या उनके सहयोगियों का होता है, इन वीडियो को इकलौती घटना के तौर पर लिया जाता है और खारिज कर दिया जाता है। भाजपा अपनी मीडिया मशीनरी का इस्तेमाल कर उन लोगों को आरोपी बनाती है जिन्होंने इसका खुलासा किया होता है।

कांग्रेस महासचिव ने कहा, सच्चाई यह है कि इस तरह की कई घटनाओं की सूचना दी जा रही है और उनके बारे में कुछ भी नहीं किया जा रहा है। चुनाव आयोग को इन शिकायतों पर निर्णायक रूप से कार्रवाई करने और सभी राष्ट्रीय दलों द्वारा ईवीएम पर गंभीर पुनर्मूल्यांकन करने की आवश्यकता है।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.