Wednesday, Jun 23, 2021
-->
congress mp shashi tharoor attack anurag thakur on pm cares fund pragnt

अनुराग ठाकुर के बयान पर भड़के थरूर, कहा- जवाब देने की बजाय गांधी-नेहरू परिवार को घसीटा

  • Updated on 9/18/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। लोकसभा (Lok Sabha) में पीएम केयर्स फंड (PM CARES Fund) पर चर्चा के दौरान केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) ने अपने बयान में नेहरू- गांधी परिवार पर कटाक्ष किया। इसके बाद कांग्रेस (Congress) और बीजेपी सांसदों के बीच जमकर हंगामा हुआ। अब इस मामले में कांग्रेस सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने कहा कि अनुराग ठाकुर ने जवाब देने की बजाय राजनीतिक भाषण दिया। उन्हें अपने इस बयान पर माफी मांगनी चाहिए।

पीएम केयर्स फंड को लेकर अनुराग ठाकुर से भिड़े कांग्रेस के अधीर रंजन, सदन 3 बार स्थगित

ठाकुर ने दिया राजनीतिक भाषण
शशि थरूर ने कहा, 'जब मंत्री एक नया विधेयक लेकर आए और उसमें कोई आपत्ति हो तो हम इंट्रोडक्शन का विरोध कर सकते हैं। टैक्सेशन बिल में 2-3 कठिनाई हैं, जो हमने बताई। अनुराग ठाकुर ने जवाब देने की बजाय राजनीतिक भाषण दिया। नेहरू जी, सोनिया गांधी जी का जिक्र करके सदन में शोर मचाया।' कांग्रेस सांसद ने कहा, 'अनुराग ठाकुर ने जो आरोप लगाए, जिस कठोर भाषा में बात की। इसपर विपक्ष ने कहा कि माफी मांगो। इसके बाद 2 बार हाउस स्थगित हो गया है, परन्तु वो माफी नहीं मांग रहे।' 

कृषि विधेयकों पर अकाली दल ने मोदी सरकार की बढ़ाई मुश्किलें, कौर का इस्तीफा

PM मोदी के लिए कुछ गलत नहीं कहा
वहीं, कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) ने केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के भाषण का जिक्र करते हुए कहा कि हमने एक भी असंसदीय, असंवैधानिक बात नहीं की है। लेकिन इन्होंने (ठाकुर) सारा माहौल खराब कर दिया। उन्होंने यह भी कहा कि हमने पीएम केयर्स फंड की बात करते हुए कभी प्रधानमंत्री (नरेंद्र मोदी) के लिए कुछ गलत नहीं कहा।

Google Play Store से हटाया गया Paytm, नियमों के नहीं पालन करने का लगा आरोप

विपक्ष की नीयत खराब- ठाकुर
दरअसल, निचले सदन में आज वित्त राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि पीएम केयर्स फंड का विरोध किया जा रहा है लेकिन इस विरोध के पीछे तर्क तो होना चाहिए। उन्होंने कहा कि ये (विपक्ष) कहते थे कि ईवीएम खराब है और कई चुनाव हार गए। फिर कहा कि जनधन खराब है, फिर कहा कि जीएसटी खराब है, तीन तलाक कानून खराब है। विपक्ष पर निशाना साधते हुए ठाकुर ने कहा कि सच्चाई यह है कि विपक्ष की नीयत खराब है। इसलिए उन्हें अच्छा काम भी खराब नजर आता है।

मंत्रियों व सांसदों के वेतन भत्ते की कटौती वाले विधेयक को राज्यसभा से मिली मंजूरी

पीएम केयर फंड पर अनुराग ठाकुर का जवाब 
पीएम केयर्स फंड का जिक्र करते हुए ठाकुर ने कहा कि इस विषय पर ये (विपक्ष) अदालत में चले गए, लेकिन अदालत ने इनकी बातों को खारिज कर दिया। वित्त राज्य मंत्री ने कहा कि ये लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच नहीं, बल्कि देश की जनता की सोच पर प्रश्नचिन्ह लगा रहे हैं। ठाकुर ने कहा कि एक तरफ देश कोरोना महामारी से लड़ने की तैयारी कर रहा था और प्रधानमंत्री अनेक कदम उठा रहे थे तब विपक्ष के लोग राजनीति कर रहे थे।

मोदी सरकार के कृषि विधेयकों पर भड़के अखिलेश, बोले- किसानों के खिलाफ साजिश

विपक्ष ने लोगों का किया अपमान
उन्होंने कहा कि पीएम केयर्स फंड में गरीबों से लेकर अमीरों, सांसदों, विधयकों, छोटे छोटे बच्चों, सेवानिवृत शिक्षकों, बुजुर्गो, स्वतंत्रता सेनानियों आदि ने अपनी जमा पूंजी महामारी से लड़ने के लिए दी है, लेकिन विपक्ष विरोध करके इन लोगों का भी अपमान कर रहा है। ठाकुर ने कहा, '1948 में तत्कालीन प्रधानमंत्री ने शाही हुकुम की तरह प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष बनाने का आदेश दिया।' उन्होंने दावा किया कि इस कोष का आज तक पंजीकरण नहीं कराया गया है। इसकी जांच होनी चाहिए कि इसको विदेशी योगदान विनियमन संबंधी मंजूरी कैसे मिली।

CM शिवराज ने भरा किसानों का बीमा, उज्जैन में 22 लाख किसानों को मिले 4688 करोड़

गांधी-नेहरू परिवार का किया जिक्र
ठाकुर ने कहा, 'अब दूध का दूध, पानी का पानी होना चाहिए।' वित्त राज्य मंत्री ने यह भी कहा कि पीएम केयर्स कोष पूरी तरह से संवैधानिक रूप से पंजीकृत चैरिटेबल ट्रस्ट है। केंद्रीय मंत्री ठाकुर ने कहा, 'पीएम केयर्स फंड एक पब्लिक चैरिटेबल ट्रस्ट है, जिसकी स्थापना भारत के लोगों के लिए की गई है। आप (विपक्ष) ने नेहरू-गांधी परिवार के लिए ट्रस्ट की स्थापना की। नेहरू और सोनिया गांधी पीएम नेशनल रिलीफ फंड के सदस्य रहे हैं। इस पर भी एक चर्चा होनी चाहिए। ठाकुर द्वारा नेहरू गांधी परिवार को लेकर की गई टिप्पणियों पर नाराजगी जताते हुए कांग्रेस सदस्यों ने सदन से वाकआउट किया। 

comments

.
.
.
.
.