Tuesday, Jan 25, 2022
-->
congress opens front against arnab goswami on social media modi bjp govt target rkdsnt

अर्नब गोस्वामी के खिलाफ कांग्रेस ने खोला मोर्चा, निशाने पर मोदी सरकार

  • Updated on 1/18/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस ने ‘रिपब्लिक टीवी’ के प्रधान संपादक अर्णब गोस्वामी और टेलीविजन रेटिंग एजेंसी बीएआरसी के पूर्व सीईओ पार्थ दासगुप्ता के बीच हुई कथित व्हाट्सऐप चैट को लेकर सोशल मीडिया पर मोर्चा खोल दिया है। इतना ही नहीं, कांग्रेस ने अर्नब के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन भी तेज कर दिए हैं। 

तांडव पर बढ़ते विवाद के बाद बढ़ाई गई अमेजन, सैफ अली के ऑफिस की सुरक्षा

अर्णब गोस्वामी, दासगुप्त के बीच हुई कथित व्हाट्सऐप चैट पर NCP ने की JPC की मांग

यूथ कांग्रेस ने खास तौर पर कड़े तेवर अपना लिए हैं। अपने ट्वीट में वह लिखती है, 'राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री @srinivasiyc की अगुवाई में देशद्रोही अर्नव गोस्वामी और उसे राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी जानकारी लीक करने वाले प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और भाजपा के खिलाफ युवा कांग्रेस का हल्ला बोल।'

ट्रैक्टर रैली निकालना किसानों का संवैधानिक अधिकार है: किसान संगठन

कांग्रेस ने अपने ट्वीट में लिखा है, 'जो पत्रकार देश के वित्तमंत्री के निधन पर जश्न मनाए उसी गिद्ध का नाम है अर्नब गोस्वामी। #BJPArnabBetrayIndia' अपने दूसरे ट्वीट में कांग्रेस लिखती है, 'खुफिया जानकारी किसने लीक की ? प्रधानमंत्री या गृहमंत्री ने.. अर्नव को कौन बचाता आया हुआ है? प्रधानमंत्री या गृहमंत्री.. आज युवा कांग्रेस ने तीनों का सिर्फ पुतला जलाया है, अब ये संघर्ष बड़ा भीषण होगा..'

नसीरूद्दीन शाह ने धर्म के आधार पर विभाजन पैदा करने वालों को लिया आड़े हाथ

इसके साथ ही कांग्रेस ने अर्नब के साथ मोदी सरकार को आड़े हाथ लेते हुए लिखा है, 'भाजपा सरकार ने तथाकथित पत्रकार को राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी जानकारी लीक कर हमारे देश के साथ धोखा दिया है। देशद्रोह? वोट और टीआरपी।'

अडाणी ग्रुप द्वारा संचालित अहमदाबाद समेत 3 एयरपोर्ट को ACI से मिली मान्यता

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा लिखते हैं, 'जो लोग 40 जवानों की शहादत पर चुनाव जीतने की ख़ुशियाँ मनाने लग जाएँ, वो चले थे राष्ट्रवाद के सर्टिफ़िकेट बाँटने? लानत है ऐसे छद्म राष्ट्रवादियों पर।'

पार्टी के दूसरे प्रवक्ता लिखते हैं, 'पूछता नहीं अब देख रहा है भारत कि- फर्जी राष्ट्रवादियों पर सरकार कब, क्या, कहाँ व कैसे कार्रवाई करती है ?' बता दें कि विपक्ष ने कथित अर्नब की चैट को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधना शुरू कर दिया है। शरद पवार नीत राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने सरकार से अर्णब गोस्वामी और पार्थ दासगुप्ता के बीच हुई कथित बातचीत की जांच के लिए संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) का गठन करने की मांग की। 

 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.