Tuesday, Mar 09, 2021
-->
congress protesting agriculture bill old video supporting rahul gandhi on bill goes viral prshnt

कृषि विधेयक का विरोध कर फंसी कांग्रेस, बिल के समर्थन में राहुल गांधी का पुराना वीडियो हुआ वायरल

  • Updated on 9/19/2020

नई दिल्ली/ डिजिटल। कृषि विधेयक बिल पास होने के बाद पंजाब (Punjab) और हरियाणा (Haryana) में लगातार किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। साथ ही कांग्रेस समेत कई पार्टियां भी इस बिल के विरोध में हैं। वहीं कृषि विधेयकों का विरोध कर रही कांग्रेस (Congress) आज खुद फंसती दिख रही है। कांग्रेस के निलंबित नेता और पूर्व प्रवक्ता संजय झा (Sanjay Jha) ने पार्टी को याद दिलाया कि आज कांग्रेस जिस विधेयक का विरोध कर रही है, वे 2019 के लोकसभा चुनाव में उसके चुनावी घोषणा पत्र में शामिल था।

राहुल गांधी बोले- कृषि बिल के जरिए मोदी सरकार बढ़ाएगी अपने 'मित्रों' का व्यापार

कांग्रेस का 6 साल पहले का वीडियो वायरल
इसके साथ ही कांग्रेस का 6 साल पहले का एक वीडियो भी खूब वायरल हो रहा है। जिसमें कांग्रेस नेता अजय माकन खुद राहुल गांधी के सामने एपीएमसी एक्ट में संशोधन की बात करते दिखाई दे रहे हैं। यह वीडियो 27 दिसंबर 2013 का है और कांग्रेस के ऑफिशियल यूट्ब चैनल पर मौजूद है और उसे यहां पर आपके लिए अटैच किया गया है। विडियों में वे कहते दिख रहे हैं कि किसानों को सहूलियत पहुंचाने और उपभोक्ताओं को कम कीमत में फल और सब्जियां उपलब्ध कराने के लिए इन्हें एपीएमसी ऐक्ट के तहत बनी लिस्ट से हटाया जाएगा।

जानें देश में अतिरिक्त ऑक्सीजन उत्पादन की क्षमता के बाद भी अस्पतालों में किल्लत क्यों?

पीएमसी ऐक्ट के तहत बनी लिस्ट से हटाने की बात
इस विडियों में साफ सुना जा सकता है कि अजय माकन खुद राहुल गांधी के सामने इस बात का ऐलान कर रहे हैं कि महंगाई और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए कांग्रेस के 11 मुख्यमंत्रियों की बैठक में फैसला लिया गया कि किसानों को सहूलियत पहुंचाने और उपभोक्ताओं को कम कीमत में फल और सब्जियां उपलब्ध कराने के लिए इन्हें एपीएमसी ऐक्ट के तहत बनी लिस्ट से हटा दिया जाएगा। 

केरल और बंगाल में NIA के हाथ लगी बड़ी सफलता, अलकायदा से जुड़े 9 आतंकी गिरफ्तार

बीजेपी और कांग्रेस इस मुद्दे पर एकमत
वहीं संजय झा ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि कृषि संबंधी बिलों को लेकर कांग्रेस और बीजेपी में कोई अंतर नहीं है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार वहीं कर रही थी जिसका कांग्रेस ने 2019 के लोकसभा चुनाव में वादा किया था। उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक, 2020 यूपीए के इरादे के अनुरूप थे और कांग्रेस की तरफ से लाए गए मल्टी ब्रांड एफडीआई में इससे फायदा होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने जो वादा अपने घोषणापत्र में किया था, वही मोदी सरकार ने पूरा किया है। बीजेपी और कांग्रेस इस मुद्दे पर एकमत हैं।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.