Wednesday, Jul 15, 2020

Live Updates: Unlock 2- Day 15

Last Updated: Wed Jul 15 2020 10:47 PM

corona virus

Total Cases

968,117

Recovered

612,782

Deaths

24,915

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA275,640
  • TAMIL NADU151,820
  • NEW DELHI116,993
  • KARNATAKA47,253
  • GUJARAT44,648
  • UTTAR PRADESH41,383
  • TELANGANA39,342
  • ANDHRA PRADESH35,451
  • WEST BENGAL34,427
  • RAJASTHAN26,437
  • HARYANA23,306
  • BIHAR20,173
  • MADHYA PRADESH19,643
  • ASSAM18,667
  • ODISHA14,898
  • JAMMU & KASHMIR11,173
  • KERALA9,554
  • PUNJAB8,799
  • CHHATTISGARH4,533
  • JHARKHAND4,246
  • UTTARAKHAND3,785
  • GOA2,951
  • TRIPURA2,183
  • MANIPUR1,700
  • PUDUCHERRY1,596
  • HIMACHAL PRADESH1,341
  • LADAKH1,142
  • NAGALAND902
  • CHANDIGARH619
  • DADRA AND NAGAR HAVELI482
  • ARUNACHAL PRADESH462
  • MEGHALAYA337
  • DAMAN AND DIU314
  • MIZORAM238
  • SIKKIM222
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS171
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
congress rahul gandhi attack modi government on petrol diesel price hike pragnt

पेट्रोल-डीजल बढ़ती कीमत पर भड़के राहुल गांधी, कहा- सरकार बंद करे मुनाफाखोरी

  • Updated on 6/29/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना वायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) में पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी को लेकर कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार (Central Government) पर हमलावर है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के बाद अब पार्टी नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने लगातार 22 बार पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ाईं। मतलब  22 बार सरकार ने गरीब और कमजोर लोगों को सीधी चोट मारी है।

इसके अलावा कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, 'हमने सरकार से कहा है कि आपने पेट्रोल और डीजल में जो एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई है इसको आप वापस लें और पेट्रोल और डीजल के दाम कम कीजिए।'

धर्मेंद्र प्रधान का सोनिया गांधी पर पटलवार, कहा- चुनौतीपूर्ण समय से गुजर रही भारतीय अर्थव्यवस्था

सोनिया गांधी ने साधा निशाना
इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी को 'अन्यायपूर्ण' करार दिया और महामारी के समय इस वृद्धि को तत्काल वापस लेकर देश की जनता को राहत प्रदान करने का नरेंद्र मोदी सरकार से सोमवार को आग्रह किया। सोनिया ने सरकार द्वारा उत्पाद शुल्क में बढ़ोतरी करके लाखों करोड़ रुपये का अतिरिक्त राजस्व एकत्र करने का दावा किया और कहा कि गत मार्च महीने के बाद से उत्पाद शुल्क में की गई बढ़ोतरी को भी वापस लिया जाए।

वीडियो संदेश जारी कर सरकार से की यह मांग
सोनिया ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस की ओर से सोशल मीडिया में चलाए गए 'स्पीक अप अगेंस्ट फ्यूल हाइक' अभियान के तहत वीडियो संदेश जारी करके सरकार से यह मांग की। कांग्रेस के मुताबिक, उसके नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ोतरी के खिलाफ सोमवार को राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन किया और संबंधित जिला प्रशासनों को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन भी सौंपा।

केंद्र सरकार व दिल्ली सरकार के खिलाफ कांग्रेस ने खोला मोर्चा, कांग्रेस अध्यक्ष हुए गिरफ्तार

पेट्रोल डीजल की मार से देशवासियों का जीना मुश्किल
सोनिया ने कहा, 'एक तरफ कोरोना महामारी के कहर और दूसरी तरफ पेट्रोल-डीजल की महंगाई ने देशवासियों का जीना मुश्किल कर दिया है। आज देश की राजधानी दिल्ली और अन्य बड़े शहरों में पेट्रोल और डीजल दोनों की कीमतें 80 रुपये प्रति लीटर के पार चली गई हैं।' उन्होंने आरोप लगाया, '25 मार्च को लगाए गए लॉकडाउन के बाद पिछले तीन महीनों में मोदी सरकार ने 22 बार पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ाईं। सरकार ने उत्पाद शुल्क बढ़ाकर भी सालाना लाखों करोड़ रुपये कमाने का काम किया। यह सब तब हो रहा है जब कच्चे तेल की कीमतें अंतरराष्ट्रीय बाजार में लगातार कम हो रही हैं।' 

पेट्रोल डीजल की बढ़ी कीमतें फौरन वापस लें सरकार
उन्होंने कहा, 'सरकार की जिम्मेदारी होती है कि वह मुश्किल समय में देशवासियों का सहारा बने और किसी मुश्किल का फायदा नहीं उठाए और मुनाफाखोरी नहीं करे।' सोनिया ने आरोप लगाया, 'पेट्रोल और डीजल की कीमत में अन्यायपूर्ण बढ़ोतरी करके सरकार ने देशवासियों से जबरन वसूली का एक नया उदाहरण पेश किया है। यह न केवल अन्यायपूर्ण, बल्कि संवेदनहीन भी है। इसकी सीधी चोट किसान, गरीबों, मध्य वर्ग और छोटे उद्योगों पर पड़ रही है।'

पेट्रोलियम की बढ़ती कीमत पर सोनिया गांधी का हमला, कहा- मोदी सरकार ने 22 बार बढ़ाए दाम

​​​​​​​सोनिया गांधी की मोदी सरकार से अपील
उन्होंने कहा, 'मैं मोदी सरकार से मांग करती हूं कि कोरोना महामारी के संकट के समय बढ़ाई पेट्रोल-डीजल की कीमत फौरन वापस ली जाए। मार्च से अब तक उत्पाद शुल्क में की गई बढ़ोतरी को भी वापस लिया जाए और इसका फायदा देशवासियों को दिया जाए। आर्थिक संकट के इस कठिन समय में यह बहुत बड़ी राहत होगी।'

युवा कांग्रेस ने बैलगाड़ी पर बैठकर निकाला जुलूस
कांग्रेस की युवा इकाई के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हो रही बढ़ोतरी के खिलाफ सोमवार को बैलगाड़ी पर बैठकर जुलूस निकाला। भारतीय युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी की अगुवाई में संगठन के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने रायसीना रोड स्थित युवा कांग्रेस के मुख्यालय से शास्त्री भवन की ओर यह जुलूस निकाला, हालांकि पुलिस ने शास्त्री भवन से कुछ दूरी पर ही इन्हें रोक दिया। दरअसल, शास्त्री भवन में पेट्रोलियम मंत्रालय का दफ्तर है।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में फिर हुई बढ़ोतरी, जानिए क्या है आज की कीमत

लगातार 22वें दिन बढ़े दाम
पेट्रोल, डीजल के दाम में वृद्धि का सिलसिला लगातार 22वें दिन भी जारी रहा। डीजल के दाम सोमवार को 13 पैसे बढ़कर 80.53 रुपये प्रति लीटर की नई ऊंचाई पर पहुंच गये। पिछले तीन सप्ताह में डीजल के दाम में कुल मिलाकर 11.14 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हो चुकी है। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों की मूल्य अधिसूचना के मुताबिक सोमवार को पेट्रोल के दाम में पांच पैसे प्रति लीटर और डीजल के दाम में 13 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गई। इस वृद्धि के बाद दिल्ली (Delhi) में पेट्रोल का दाम 80.38 रुपये से बढ़कर 80.43 रुपये प्रति लीटर और डीजल का दाम 80.40 रुपये से बढ़कर 80.53 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.