Wednesday, Jan 22, 2020
congress rahul gandhi unnao gangrape victim increase in violence against women

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत पर बोले राहुल गांधी- रेप कैपिटल बना India

  • Updated on 12/7/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने देश में हिंसा की बढ़ती घटनाओं खासकर महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों के लिये शनिवार को भाजपा (BJP) के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार (Central Government) की आलोचना की।

उन्नाव मामलाः गवर्नर से मिलीं मायावती, UP में बढ़ते अपराध पर जताई चिंता

गांधी ने कांग्रेस (Congress) के नेतृत्व वाले विपक्षी संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा (UDF) के सम्मेलन में यहां कहा, "आपने देश भर में हिंसा के बढ़ते मामलों को देखा। अराजकता, महिलाओं के खिलाफ ज्यादती के मामले बढ़े हैं। हर दिन हम पढ़ते हैं कि लड़कियों से दुष्कर्म हो रहा है, उनसे छेड़छाड़ की जा रही है। अल्पसंख्यक और दलित समुदायों के खिलाफ हिंसा के मामले भी बढ़े हैं।" उन्होंने कहा कि इस बढ़ती अराजकता की वजह संस्थागत ढांचों का टूटना है।  

उन्नाव गैंगरेपः प्रियंका गांधी ने बंद कमरे में की पीड़िता के पिता से बात

गांधी ने आरोप लगाया, "ऐसा इसलिए है क्योंकि जो व्यक्ति देश चला रहा है वह हिंसा और सत्ता के विवेकहीन इस्तेमाल में विश्वास रखता है।" उन्होंने कहा, "दुनिया भारत की तरफ देखती थी ताकि उसे दिशा मिल सके लेकिन अब वो हमारी तरफ देखते हैं और कहते है कि यह देश नहीं जानता की महिलाओं से कैसे पेश आना चाहिए।" उनकी यह टिप्पणी उन्नाव (Unnao) में दुष्कर्म के बाद जलाई गई पीड़िता की दिल्ली (Delhi) के अस्पताल में एक दिन पहले हुई मौत और हैदराबाद (Hyderabad) में एक पशु चिकित्सक को चार लोगों द्वारा दुष्कर्म के बाद जलाए जाने की घटनाओं के बाद सामने आई है।  

उन्नाव बलात्कार पीड़िता की मौत के बाद सियासत गर्म, धरने पर बैठे अखिलेश यादव

वायनाड (Wayanad) से सांसद ने कहा कि देश की सबसे बड़ी ताकत उसकी अर्थव्यवस्था हुआ करती थी, अब यह सबसे बड़ी कमजोरी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के पास देश को आगे ले जाने की परिकल्पना नहीं है। राहुल गांधी ने बाद में यहां एक अस्पताल में मनोचिकित्सा और नशा-मुक्ति केंद्र के नए ब्लॉक का उद्घाटन किया। उन्होंने कलपेट्टा में आपदा प्रबंधन में प्रशिक्षित किये गए 400 नए स्वयंसेवकों से भी चर्चा की।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.