Monday, May 23, 2022
-->
congress-rahul-said-hindutva-always-spread-hatred-hindu-muslim-sikh-christian-pay-price-rkdsnt

राहुल बोले- हिंदुत्ववादी हमेशा नफरत फैलाते हैं, हिंदू-मुसलमान-सिख-ईसाई इसकी क़ीमत चुकाते हैं

  • Updated on 12/24/2021


नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि ‘हिंदुत्ववादी हमेशा नफरत और हिंसा फैलाते हैं’ और सभी समुदायों को इसकी कीमत चुकानी पड़ती है। उन्होंने कहा कि भारत हिंसा के खिलाफ है और यह अब और नहीं होनी चाहिये। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने 17 से 20 दिसंबर तक हरिद्वार के वेद निकेतन धाम में आयोजित ‘धर्म संसद’ का जिक्र करते हुए यह टिप्पणी की, जहां कथित रूप से एक समुदाय के खिलाफ नफरत भरे भाषण दिये गये थे। 

मोदी सरकार के खिलाफ सक्रिय हुए तोगड़िया, किसानों के मुआवजे का मुद्दा उठाया 

 

जूना अखाड़ा के यति नरसिंहानंद गिरि ने समारोह का आयोजन किया था, जो मुस्लिमों के खिलाफ नफरत भरे भाषण देने और हिंसा को उकसाने के मामले में पुलिस की जांच का सामना कर रहे हैं। राहुल गांधी ने हैशटैग ‘इंडिया अगेंस्ट हिंदुत्व’ और ‘हरिद्वार हेट असेंबली’ के साथ हिंदी में ट्वीट किया, ‘‘हिंदुत्ववादी हमेशा नफऱत व हिंसा फैलाते हैं। हिंदू-मुसलमान-सिख-ईसाई इसकी क़ीमत चुकाते हैं। लेकिन अब और नहीं!’’

चुनाव टालने के सुझाव पर सुशील चंद्रा ने कहा- अगले हफ्ते यूपी दौरे के बाद उचित फैसला

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने भी नफरत और हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘यह निंदनीय है कि हमारे सम्मानित पूर्व प्रधानमंत्री की हत्या करने और विभिन्न समुदायों के लोगों के खिलाफ हिंसा फैलाने की बात कहकर वे बच जाते हैं। इस तरह के कृत्य हमारे संविधान और कानून का उल्लंघन करते हैं।’’ 

लुधियाना अदालत में विस्फोट को प्रधान न्यायाधीश रमण ने बताया ‘चिंताजनक ट्रेंड’ 

पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि हरिद्वार में धर्म संसद में अल्पसंख्यकों के खिलाफ हिंसा को उकसाने के लिए कथित रूप से नफरत भरे भाषण देने के सिलसिले में जितेंद्र नारायण त्यागी और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है।  त्यागी और अन्य वक्ताओं ने पिछले हफ्ते के कार्यक्रम में कथित रूप से भड़काऊ भाषण दिये, जिसके कुछ वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर देखे गये। इस महीने की शुरुआत में हिंदू धर्म अपनाकर वसीम रिजवी ने अपना नाम बदलकर जितेंद्र नारायण त्यागी रख लिया था। 

हरिद्वार में धर्म संसद में नफरत भरे भाषण दिए जाने को लेकर FIR दर्ज

हरिद्वार कोतवाली पुलिस के थाना प्रभारी रकिंदर सिंह ने कहा कि बृहस्पतिवार को आईपीसी की धारा 153ए के तहत प्राथमिकी दर्ज की गयी। हरिद्वार के ज्वालापुर निवासी एक व्यक्ति की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज की गयी है। तृणमूल कांग्रेस के एक नेता ने भी बृहस्पतिवार को हरिद्वार के आयोजन में भाषण देने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। 

कोविड-19 में जान गंवाने वालों के परिवारों को मिले मुआवजा
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कोविड-19 से जान गंवाने वालों के परिवारों के लिए शुक्रवार को मुआवजे की मांग की और कहा कि पीड़ितों को न्याय दिलाने की दिशा में यह पहला कदम होगा। कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान गंगा में शव बहाए जाने संबंधी एक खबर को साझा करते हुए राहुल ने कहा, ‘‘गंगा की लहरों में कोविड मृतकों के दर्द का सत्य बह रहा है जिसे छुपाना संभव नहीं। पीड़ित परिवारों को हर्जाना देना न्याय की तरफ पहला कदम होगा।’’ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने भी पीड़ित परिवारों को मुआवजा देने की मांग की और कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को गंगा नदी के किनारे मिले शवों के बारे में सच्चाई छिपाने के लिए राज्य के लोगों से माफी मांगनी चाहिए।

प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘‘कोरोना वायरस की दूसरी लहर के समय उत्तर प्रदेश की जनता असहनीय पीड़ा में थी व सरकार सच छिपाने के लिए गंगा किनारे दफनाए गए शवों से रामनामी हटाने और गंगा में तैरते शवों की सच्चाई छिपाने में व्यस्त थी। योगी आदित्यनाथ जी को प्रदेश से माफी मांगनी चाहिए और पीड़ित परिवारों को तुरंत मुआवजा देना चाहिए।’’ प्रियंका ने नमामि गंगा परियोजना के प्रमुख के हवाले से आई एक खबर को भी साझा किया जिसमें उन्होंने स्वीकार किया कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान नदी में शव बहाए गए।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.