Saturday, Mar 28, 2020
congress rajasthan government will pass resolution assembly session against caa

#CAA के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव पारित करेगी राजस्थान में कांग्रेस सरकार

  • Updated on 1/23/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस (Congress) के प्रदेशाध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने गुरुवार को यहां कहा कि संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के विरोध में राजस्थान सरकार शुक्रवार से शुरू हो रहे विधानसभा के सत्र में एक प्रस्ताव पारित करेगी। कांग्रेस नेता राहुल गांधी की 28 जनवरी को प्रस्तावित रैली की तैयारियों के संबंध में समीक्षा के बाद संवाददाताओं से बातचीत में पायलट ने केन्द्र सरकार से सीएए पर पुर्निवचार करने का आग्रह किया। 

अभिनेत्री नंदिता दास ने जयपुर साहित्य उत्सव के दौरान #CAA, #NRC पर उठाए सवाल

उन्होंने कहा कि अगर कहीं विरोध होता है और किसी मुद्दे पर लोगों की असहमति है तो इसका संज्ञान लिया जाना चाहिए। अलग-अलग विधानसभाओं ने, चाहे वो पंजाब की हो, केरल की हो, जो प्रस्ताव पारित किया है उसका संज्ञान केंद्र को लेना चाहिए।

निर्भया मामले में डेथ वारंट जारी करने वाले जज का ट्रांसफर, उठे सवाल

पायलट ने कहा कि अंत में निर्णय उच्चतम न्यायालय करेगा क्योंकि कई राज्य सरकारे इस कानून के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में गई हैं। उन्होंने कहा कि कानून पारित करना एक बात है लेकिन वह कानूनी जांच में पास होगा या नहीं होगा यह काम उच्चतम न्यायालय करेगा। 

थरूर के बाद चिदंबरम भी बोले- सत्ता में बैठे लोग असली 'टुकड़े-टुकड़े गैंग' हैं

पायलट ने कहा कि मुझे लगता है कि अंतिम निर्णय उच्चतम न्यायालय के दरवाजे पर होगा लेकिन हर व्यक्ति, संगठन, पार्टी को यह अधिकार है कि वह असहमति व्यक्त करे, शांति पूर्ण तरीके से करे, कानून को अपने हाथ में जो लेगा उसका हम समर्थन नहीं करते है लेकिन विरोध करने की आजादी लोकतंत्र में सब को दी गई है और इसी संदर्भ में हमारी सरकारी भी इसी तरह का प्रस्ताव विधानसभा में पारित करेगी। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में अगर संवाद नहीं हैं, विचार विमर्श नहीं है, विरोधियों को संज्ञान में लेकर आगे कार्यवाहीं नहीं करते है तो लोकतंत्र कमजोर होता है। 

#CID प्रभार को लेकर CM खट्टर के आगे अनिल विज के तेवर पड़े ढीले

आज पूरे देश में सीएए को लेकर आंदोलन हो रहा है ऐसा नहीं है कोई एक वर्ग, एक क्षेत्र, एक राज्य, एक पार्टी.. अगल अलग संस्थाएं, खासकर नौजवान लोग इस कानून के विरोध में अपनी बात को रख रहे है। उनकी बात सुनने तक का कलेजा केन्द्र सरकार को दिखाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आगामी 28 जनवरी को कांग्रेस की ओर से आयोजित‘युवा आक्रोश रैली’का आयोजन रामनिवास बाग में किया गया है। इस रैली को कांग्रेस नेता राहुल गांधी संबोधित करेंगे। 

#BJP सांसद रूपा गांगुली बोलीं- दुनिया का सबसे अहम मानवाधिकार कानून है #CAA

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.