Saturday, Nov 17, 2018

अकबर के खिलाफ आरोपों पर पीएम मोदी की चुप्पी से हैरान कांग्रेस

  • Updated on 10/14/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्रीय मंत्री एम जे अकबर के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों को लेकर कांग्रेस ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि उनकी चुप्पी 'साफ नजर आ रही है लेकिन वह अस्वीकार्य' है। पिछले पखवाड़े में ‘मी टू’ अभियान के जोर पकड़ने के साथ केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एम जे अकबर पर उनके कई पूर्व सहयोगियों ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए। 

वैष्णोदेवी आने वाले श्रद्धालुओं के लिए 5 लाख रुपये की दुर्घटना बीमा

गंगा के योद्धा जीडी अग्रवाल के निधन पर विवाद तेज, आश्रम पर केस करेगा एम्स

आरोप उस वक्त के हैं जब अकबर विभिन्न मीडिया संगठनों में संपादक के रूप में कार्यरत थे। पार्टी कार्यालय में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए आनंद शर्मा ने इस मुद्दे पर मोदी की चुप्पी पर सवाल खड़े किए और कहा कि सरकार के प्रमुख के रूप में उन्हें इस मुद्दे पर बोलना चाहिए।

प्रशांत भूषण बोले- भारत के इतिहास में सबसे बड़ा रक्षा घोटाला है राफेल सौदा

शर्मा ने कहा, 'इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री बोलें, देश अपने प्रधानमंत्री को उनके कार्यों से परखे। अब तक उनकी चुप्पी स्पष्ट है। यह सवाल न केवल सरकार के नैतिक अधिकार पर है बल्कि उनके अपने ऊपर भी है और जिस पद पर वह बैठे हुए हैं उसकी गरिमा से जुड़ा हुआ है।'

केजरीवाल ने #MeToo के तहत रिट्वीट किए कपिल मिश्रा के Video, निशाने पर मोदी-शाह

उन्होंने कहा कि जो प्रधानमंत्री ‘‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’’ का संकल्प लेते हैं और महिलाओं की गरिमा की बात करते हैं, वह इस मुद्दे पर चुप हैं। शर्मा ने कहा, 'उनकी चुप्पी अस्वीकार्य है। सरकार के प्रमुख को मुद्दे पर अपने विचार प्रकट करने चाहिए।'

राहुल गांधी ने HAL कर्मियों की जमकर की तारीफ, निशाने पर मोदी-अंबानी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.