Monday, Dec 06, 2021
-->
congress women leaders demanded reduction price cooking gas stove wood cylinder rkdsnt

रसोई गैस के बढ़ते दामों को लेकर कांग्रेस की महिला नेताओं ने मोदी सरकार पर बोला हमला

  • Updated on 8/18/2021

नई दिल्ली / टीम डिजिटल। कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत समेत पार्टी की कई महिला नेताओं ने बुधवार को मिट्टी का चूल्हा, लकड़ी और गैस सिलेंडर के साथ मीडिया से बात की और सरकार से आग्रह किया कि रसोई गैस की कीमतों में हुई बढ़ोतरी को वापस लेकर आम गृहणियों को राहत प्रदान की जाए। सुप्रिया ने यह आरोप भी लगाया कि गैस सिलेंडर की कीमत में 25 रुपये की ताजा बढ़ोतरी नरेंद्र मोदी सरकार का ‘अनैतिक और असंवेदनशील’ फैसला है। उनके साथ कांग्रेस नेता अलका लांबा, अमृता धवन और राधिका खेड़ा ने भी रसोई गैस की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर केंद्र पर निशाना साधा। 

पेगासस विवाद: SC का जांच आयोग गठन के खिलाफ याचिका पर केंद्र, बंगाल सरकार को नोटिस

सुप्रिया ने कहा, ‘‘रसोई गैस के दाम में बढ़ोतरी अनैतिक और असंवेदनशील है। दिल्ली में 860 रुपये का सिलेंडर का बिक रहा है। अंतरराष्ट्रीय बाजार के हिसाब से ये सिलेंडर 600 रुपये का बिकना चाहिए, लेकिन मोदी सरकार इसे 860 रुपये का बेच रही है। देश के कई हिस्सों में इसकी कीमत एक हजार रुपये को पार कर गई है।’’ 

राकेश अस्थाना की नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर नोटिस जारी करने से कोर्ट का इनकार

उन्होंने दावा किया कि संप्रग सरकार के समय 1.47 लाख करोड़ रुपये की सब्सिडी मिलती थी, लेकिन इस सरकार ने इस सब्सिडी घटाकर 12000 करोड़ रुपये कर दिया है जिस वजह से लोगों को पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की बढ़ी हुई कीमतों से राहत नहीं मिल पा रही है। सुप्रिया ने कहा, ‘‘उज्ज्वला योजना पर सीना ठोकने वाली सरकार को पता होना चाहिए कि अब महिलाएं फिर से लकड़ी के ईंधन का उपयोग करने का विवश हैं। प्रधानमंत्री को अब महिलाओं के आंसू क्यों नजर नहीं आते?’’ 

केंद्र की सुप्रीम कोर्ट में दलील- जजों के लिए राष्ट्रीय स्तर का सुरक्षा बल बनाना प्रैक्टिकल नहीं

अलका लांबा ने आरोप लगाया कि जब वित्त मंत्री कहती हैं कि पेट्रोल-डीजल के दाम कम नहीं हो सकते तो यह लोकतंत्र को सीधी चुनौती देना है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में कई स्थानों पर महिलाएं मिट्टी के चूल्हे खरीद रही हैं क्योंकि वे गैस सिलेंडर के खर्च का वहन नहीं कर सकतीं। राधिका खेड़ा ने कहा कि सरकार को ये बढ़ी हुई कीमतें वापस लेनी चाहिए क्योंकि जनता महंगाई के बोझ को सहन नहीं कर पा रही है।

पेगासस मुद्दे पर मोदी सरकार का विस्तार से हलफनामा देने से इनकार, SC का नोटिस जारी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.