Monday, Nov 29, 2021
-->
congress workers protest outside kapil sibal residence alka lamba questions his role rkdsnt

कांग्रेस में अब सिब्बल को लेकर मचा घमासान, कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन, अलका ने उठाए सवाल

  • Updated on 9/29/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल की ओर से पार्टी नेतृत्व पर सवाल खड़ा किये जाने के बाद पार्टी के कई कार्यकर्ताओं ने बुधवार को सिब्बल के आवास के बाहर प्रदर्शन किया और उनके खिलाफ नारेबाजी की। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि सिब्बल के बयान से कार्यकर्ता आहत हुए और इस वजह से उन्होंने विरोध प्रदर्शन किया। 

घर खाली कराने के बहाने दिल्ली में अमित शाह से मिलने पहुंचे अमरिंदर सिंह

उधर, कांग्रेस नेता अलका लांबा ने भी कपिल सिब्बल के बर्ताव पर सवाल उठाए हैं। अपने ट्वीट में वह लिखती हैं, 'कपिल सिब्बल जी से 2020 के विधानसभा चुनावों में मैं निवेदन करती रही सर एक बार चांदनी चौक आ जाइए, एक बार भी नहीं आए,अपने घर पर जिन कार्यकर्ताओं स्थानीय नेताओं की मीटिंग बुलाई, अगले ही दिन सभी ने #AAP का दामन थाम लिया, ना ही 2019 का चुनाव लड़ने वाले ही आए. इनके दम पर कॉंग्रेस चलेगी?'

धनबाद जज मौत का मामला : CBI ने आरोपियों को चौथी बार लिया हिरासत में

उधर, सिब्बल के आवास के बाहर पहुंचे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हाथों में तख्ती ले रखी थी जिस पर ‘गेट वेल सून सिब्बल’ (सिब्बल आप जल्द स्वस्थ हों) लिखा हुआ था। उन्होंने ‘गद्दारों को पार्टी से बाहर निकालो’ के नारे भी लगाए। कांग्रेस की दिल्ली इकाई के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘‘सिब्बल साहब ने जो बयान दिया है और जिस तरह से हमारी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व पर सवाल खड़े किए हैं, उससे कार्यकर्ता बहुत आहत हैं। कार्यकर्ता अपने आप उनके आवास के बाहर पहुंचे और प्रदर्शन किया।’’ 

रिलायंस इंडस्ट्रीज के बोर्ड में यासिर अल-रुमयान, कंपनी ने फैसले का किया बचाव

सिब्बल ने पार्टी की पंजाब इकाई में मचे घमासान और कांग्रेस की मौजूदा स्थिति को लेकर बुधवार को पार्टी नेतृत्व पर सवाल खड़े किए और कहा कि कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक बुलाकर इस स्थिति पर चर्चा होनी चाहिए तथा संगठनात्मक चुनाव कराये जाने चाहिए। उन्होंने कई नेताओं के पार्टी छोडऩे का उल्लेख करते हुए गांधी परिवार पर इशारों-इशारों में कटाक्ष किया कि ‘‘जो लोग इनके खासमखास थे वो छोड़कर चले गए, लेकिन जिन्हें वे खासमखास नहीं मानते वे आज भी इनके साथ खड़े हैं।’’ सिब्बल ने जोर देकर कहा, ‘‘हम ‘जी हुजूर 23’ नहीं हैं। हम अपनी बात रखते रहेंगे।’’  

दिल्ली दंगा मामले में पुलिस को फटकार, कोर्ट ने कहा- स्थिति दुर्भाग्यपूर्ण है

comments

.
.
.
.
.