Thursday, Jan 23, 2020
constitution at 70 campaign closing ceremony delhi govt school arvind kejriwal

Constitution @ 70: समापन समारोह में बोले CM केजरीवाल, संविधान के सिद्धांतों पर चलाई सरकार

  • Updated on 11/27/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने मंगलवार को इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में दिल्ली सरकार (Delhi Government) के शिक्षा विभाग द्वारा तीन माह से चलाए जा रहे कांस्टीट्यूशन एट 70 कैंपेन (Constitution at 70 Campaign) के समापन सत्र को सम्बोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत का संविधान (Constitution) इतना बेहतर है कि अगर एक दिन के लिए उसे इमानदारी से लागू कर दिया जाए तो देश को दुनिया में नंबर एक बनने से कोई नहीं रोक सकता।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि पिछले पांच साल के अंदर दिल्ली में दिल्ली सरकार इसी संविधान से चलने की कोशिश कर रही है। हमने समानता व शिक्षा जैसे अधिकारों को वास्तविक रूप में दिल्ली के अंदर लागू किया है। बाबा साहेब आंबेडकर के सपनों को दिल्ली में पूरा किया। इस दौरान उप मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया, मुख्य सचिव विजय देव, शिक्षा विभाग के अधिकारी व अन्य लोग उपस्थित रहे।

संविधान दिवस के दिन ही क्यों हुई AAP की स्थापना, ये महज संयोग नहीं- CM अरविंद केजरीवाल

तीन महीने से चल रहा था कैंपेन
दिल्ली के विभिन्न स्कूलों के प्रिंसिपल, शिक्षक और छात्रों को सम्बोधित करते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि आज हम लोग संविधान दिवस पर एकत्र है। हमारा संविधान 70 साल का हो गया। भारत एक साथ भी है और खूब तरक्की भी कर रहा है। उसका केवल एक ही कारण है, देश का संविधान। जिस तरह बच्चों ने सवाल किए और जवाब दिया, उससे पता चलता है कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों में तीन माह में स्वतंत्रता, समानता व बंधुत्व को कितना आत्मसात किया है। 

CM केजरीवाल का तोहफा: कच्ची कॉलनियों के सेप्टिक टैंकों की मुफ्त में सफाई कराएगी दिल्ली सरकार

'संविधान से सरकार चलाने की कोशिश'
पिछले पांच साल के अंदर दिल्ली में दिल्ली सरकार इसी संविधान से चलाने की कोशिश कर रहे हैं। संविधान में लिखा है बराबरी का अधिकार होगा। हमारे सामने तमाम अड़चने आई कि दिल्ली के अंदर संविधान लागू न हो लेकिन हमने उसे लागू किया।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कांस्टीट्यूशन एट 70 कैंपेन की नई शुरुआत के लिए हम लोग एकत्र हुए हैं। तीन माह पहले हमने स्कूलों में इस कैंपेन को प्रारंभ किया, तभी तय कर लिया कि कर्तव्य व अधिकार दोनों के बारे में बताएंगे। समानता हमारा कर्तव्य व अधिकार भी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.