Wednesday, Oct 23, 2019
coordination-meeting-for-kailash-mansarovar-yatra

कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए हुई समन्वय बैठक

  • Updated on 6/7/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नाथूला के रास्ते वार्षिक तीर्थाटन कैलाश मानसरोवर यात्रा के सुचारू संचालन के लिए सिक्किम सरकार के विभिन्न विभागों एवं अन्य एजेंसियों की तैयारी पर चर्चा के लिए शुक्रवार को यहां एक समन्वय बैठक हुई।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए अवर मुख्य सचिव एस सी गुप्ता ने संबंधित विभागों और एजेंसियों को इस यात्रा की सफलता के लिए आपसी तालमेल से काम करने का निर्देश दिया। उन्होंने आवास, निर्बाध बिजली पानी आपूॢत , परिवहन , स्वास्थ्य एवं संचार जैसे मूलभूत सुविधाओं और सेवाओं के बारे में विस्तार से जानकारी ली।

बाह्य चंद्रमाओं पर हो सकता है एलियनों का अस्तित्व: अध्ययन

सिक्किम पर्यटन एवं नागर विमानन विभाग सचिव टी टी भूटिया ने बताया कि इस साल 50-50 तीर्थयात्रियों के 10 जत्थे का नाथूला के रास्ते इस यात्रा पर जाने का कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि गंगटोक से कैलाश मानसरोवर का मार्ग सांगू झील और तिब्बत के पठार के विशाल से मनोहारी प्राकृतिक दृश्यों से गुजरता है।

पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने जयशंकर को पत्र लिख ‘‘सभी अहम मुद्दों’’ पर बातचीत की पेशकश की

यह यात्रा 21 दिनों की होगी जिसमें तीन दिन तैयारी संबंधी कार्य के लिए नयी दिल्ली में रूकना होगा। भूटिया ने कहा कि नाथूला दर्रे से गुजरने वाला यह मार्ग वाहन यातायात के लायक है और वरिष्ठ नागरिकों के लिए उपयुक्त है जो कठिन ट्रेकिंग के लिए असमर्थ होते हैं। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.