Sunday, Jul 12, 2020

Live Updates: Unlock 2- Day 11

Last Updated: Sat Jul 11 2020 03:20 PM

corona virus

Total Cases

823,471

Recovered

516,330

Deaths

22,152

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA238,461
  • TAMIL NADU114,978
  • NEW DELHI109,140
  • GUJARAT40,155
  • UTTAR PRADESH33,700
  • TELANGANA25,733
  • ANDHRA PRADESH25,422
  • KARNATAKA25,317
  • RAJASTHAN23,814
  • WEST BENGAL22,987
  • HARYANA19,736
  • MADHYA PRADESH15,284
  • BIHAR15,039
  • ASSAM11,737
  • ODISHA10,624
  • JAMMU & KASHMIR8,675
  • PUNJAB6,491
  • KERALA5,623
  • CHHATTISGARH3,305
  • UTTARAKHAND3,161
  • JHARKHAND2,854
  • GOA1,813
  • TRIPURA1,580
  • MANIPUR1,390
  • HIMACHAL PRADESH1,077
  • PUDUCHERRY1,011
  • LADAKH1,005
  • NAGALAND625
  • CHANDIGARH490
  • DADRA AND NAGAR HAVELI373
  • ARUNACHAL PRADESH270
  • DAMAN AND DIU207
  • MIZORAM197
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS141
  • SIKKIM125
  • MEGHALAYA88
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
Corona After all why has the world been upset with China and is looking suspiciously ALBSNT

Corona:  आखिर क्यों चीन से दुनिया हुई खफा और देख रही है संदेह से?

  • Updated on 3/27/2020

नई दिल्ली/कुमार आलोक भास्कर।  आज अगर भारत के पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को छींक भी आएगी तो न्यूयार्क टाइम्स की बड़ी खबर बन सकती है। अमेरिका समेत लगभग सभी देशों की कोई भी खबर या सूचना आज अबाध गति से दुनिया के एक कोना से दूसरे कोना तक पहुंचती है। लेकिन इसके वाबजूद एक ऐसा देश है जो अपनी शर्तों पर दुनिया को चलने पर न सिर्फ मजबूर करने के फिराक में जुटी रहती है। बल्कि उस देश की कोई भी खबर दुनिया को तभी पता चलेगी जब वहां की सरकार हरी झंडी देगी।

Corona को हराने के लिये पीएम मोदी का मेगा रोडमेप तैयार, बढ़ेगी Lockdown की अवधि? 

चीन है दुनिया में एक पहेली की तरह

कारण साफ है कि वहां की मीडिया पर सरकार की कड़ी पहरेदारी 24 घंटे रहती है। चीन जो दुनिया भर में एक पहेली की तरह है। वो भी जब पूरी दुनिया एक वैश्विक गांव में तब्दील होते हुए मुक्त अर्थव्यवस्था को अपनाई हुई है। तो ऐसे में चीन पर सवाल उठना लाजिमी है। क्या आने वाले दिनों में भारत,अमेरिका समेत पूरी दुनिया को चीन का बहिष्कार नहीं करना चाहिये, तब तक जबतक वहां कि सूचना तंत्र को सरकारी दवाब से मुक्ति नहीं मिल जाती है?

Boris johnson, Britain prime minister

उपर गरजे आसमान तो नीचे बरसे पीएम मोदी,Corona के खिलाफ देश जीतेगा निर्णायक लड़ाई!

कोरोना वायरस से जुड़ी जानकारी छुपाया

चीन को आजकल पूरी दुनिया संदेह की दृष्टि से देख रही है। कारण अमेरिका समेत सभी देशों ने चीन पर यह कहते हुए गंभीर आरोप लगाया है कि कोरोना वायरस से जुड़ी जानकारी जानबूझकर महीनों तक छुपायें रखा।

अघोषित इमरजेंसी और जनता कर्फ्यू से देश को क्या हुआ हासिल?

वुहान शहर से फैला कोरोना 

मालूम हो कि चीन के वुहान शहर को ही कोरोना वायरस का केंद्र माना गया है जहां से पूरी दुनिया में यह महामारी फैली है। वुहान शहर में 1 दिसंबर 19 को पहली बार कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज की पुष्टि हुई थी। फिर दिसंबर के दूसरे सप्ताह में ही इस कोरोना से संक्रिमत मरीज की पत्नी भी संक्रमित हुई। लेकिन हैरत की बात है कि फिर भी चीन ने दावा किया कि यह वायरस इंसान से इंसान में नहीं फैलता है। लेकिन इसके बाद जो लुकाछिपी का खेल चीन ने विश्व के साथ खेली उससे संदेह होना कोई गलत भी नहीं है।

Narendra modi in g-20 meeting

जनता कर्फ्यू की तैयारी और स्पीकर से घरों में रहने की अपील से Corona के आगे जीत है?

चीन ने दुनिया से बोला झूठ

इसके बाद फिर 25 दिसंबर को 2 चीनी मेडिकल स्टॉफ भी कोरोना वायरस की चपेट में आ गए। लेकिन एक बार फिर 31 दिसंबर को चीन ने कहा कि यह वायरस इंसान से इंसान में नहीं फैलता है। चीन ने फिर नया पैंतरा चलते हुए डॉक्टरों को इस बीमारी को लेकर चुप्पी साधने का निर्देश दिया। इसके साथ ही वुहान शहर में कोरोना वायरस से जुड़े सभी नमूने को नष्ट किया गया।

कोरोना वायरस: दुनियाभर में सत्ता के गलियारों में भी घूम रहा Covid 19

19 जनवरी को चीन ने तब किया स्वीकार जब

हालांकि 19 जनवरी को चीन ने स्वीकार किया कि कोरोना वायरस इंसान से इंसान में फैलता है। साथ ही चीन ने कहा कि उनके देश में महज 2 लोग ही संक्रमित हुए है। लेकिन यह स्वीकार तब किया गया जब अन्य देशों में भी कोरोना वायरस से संक्रमित की खबरें आने लगी। जिन देशों के लोगों ने चीन के वुहान शहर की यात्रा की उनके लौटकर अपने देश में जाने के बाद यह वायरस तेजी से दूसरे व्यक्ति में भी फैला।  

A doctor treat patient in Aiims

कोरोना संक्रमण से बचाए अपने ऑफिस और फैक्ट्री को, अपनाएं ये आसान तरीके

आज 196 देश हैं चपेट में

कोरोना वायरस आज दुनिया के 196 देशों में कहर बरपा रही है। जबकि 1 दिसंबर से लेकर 13 जनवरी 20 तक चीन दुनिया को इस वायरस को लेकर भ्रमित करती रही। दुनिया को इस खतरनाक वायरस का आभास पहली बार 13 जनवरी को तब हुआ जब चीन के वुहान शहर से यात्रा कर लौटे थाइलेंड के यात्री का कोरोना पॉजिटिव केस सामने आया।

PM मोदी की ‘थाली-ताली’ अपील का विज्ञान और आयुर्वेद भी करता है समर्थन, जानिए कैसे

WHO ने भी दुनिया को किया गुमराह

हालांकि आश्चर्य की बात है कि उसके बाद भी 14 जनवरी 20 को WHO ने बयान जारी करके दावा किया कि कोरोना वायरस इंसान से इंसान में नहीं फैलता है। जिसको लेकर किसी को चिंता की आवश्यकता नहीं है। WHO के इस बयान को अब चीन के समर्थन के तौर पर देखा जा रहा है।

कोरोना का खौफ: महिला की छींक से मचा हड़कंप, मॉल से फेंका गया 26 लाख का सामान  

अमेरिका,इटली में मौत का मचा है तांडव

सबसे बड़ी बात आज दुनिया के सबसे महाशक्ति अमेरिका भी कोरोना वायरस के सामने बेबस नजर आते है। आज अमेरिका अपने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की लापरवाही की कीमत 1300 लोगों की मौत से दे रही है। तो वहीं कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 90,000 को छूने को है। जिससे यह सुपरपावर कोरोना वायरस का नया Epicenter बनते हुए चीन और इटली को पीछे छोड़ दिया है।

Corona Effect: जी-20 की बैठक में पीएम ने जताई चिंता, 5 ट्रिलियन मदद देगी संगठन

भारत में भी नहीं टला हैं खतरा

अमेरिका के न्यूयार्क शहर में मौत का तांडव मचा हुआ है जहां गुरुवार को ही 24 घंटे में कोरोना वायरस से 100 लोगों की मौत हो गई है।  चीन में अब तक कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों की संख्या 81,340 और इटली में 80,589 है। जबकि भारत में पीएम नरेंद्र मोदी के सही समय पर देश को लॉकडाउनका फायदा मिलता नजर आ रहा है। जिससे अब तक संक्रमित लोगों की संख्या 700 पहुंची है तो मौत 20 हुई है। हालांकि फिर भी भारत की चिंता खत्म नहीं हुई है।

यहां पढ़ें कोरोना के जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें 

क्या है कोरोना वायरस? जानें, बीमारी के कारण, लक्षण व समाधान

Corona Virus: भारत में जल्द बिगड़ेंगे कोरोना से हालात अगर ये बात नहीं मानी तो...

coronavirus: 5 दिन में दिखे ये लक्षण तो जरूर कराएं जांच 

यदि आपका है यह Blood Group तो जल्द हो सकते हैं कोरोना वायरस के शिकार 

कोरोना वायरस: जिम बंद हुए हैं एक्सरसाइज नहीं, 'वर्क फ्रॉम होम' की जगह करें 'वर्कआऊट फ्रॉम होम' 

Coronavirus को रखना है दूर तो डाइट में शामिल करें ये 7 चीजें 

कोरोना वायरस : मास्क के इस्तेमाल में भी बरतें सावधानियां, ऐसे करें यूज 

कोरोना वायरस से जुड़े ये हैं कुछ खास मिथक और उनके जवाब 

भारत में लॉकडाउन के बाद भी कोरोना वायरस के फैलने का खतरा बढ़ा, पढ़े खास रिपोर्ट

लॉक डाऊन है तो फिक्र क्या, बैंक कराएंगे आपके पैसे की होम डिलीवरी

 

 

comments

.
.
.
.
.