Sunday, Mar 07, 2021
-->
corona and earthquake indians stuck in japan pleading for help pm modi

कोरोना और भूकंप की दोहरी मार झेल रहे जापान में फंसे भारतीयों ने लगाई पीएम मोदी से मदद की गुहार

  • Updated on 5/2/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वायरस की महामारी के चलते जापान में कई भारतीय फंसे हुए हैं। इन लोगों में कुछ लोग वो हैं जो जापान में काम के सम्बंध में गये थे और कुछ वो छात्र हैं जो वहां पढ़ रहे थे।

यह ऐसा समय है जब जापान में भूंकप के झटके और सुनामी आने की सम्भावनाएं लगातार देखी जा रही हैं और दूसरी तरफ कोरोना का संकट लोगों को घेरा हुआ है। इस बीच जापान में भूंकप और कोरोना की दोहरी मार झेल रहे लोगों ने भारत लौटने के लिए पीएम मोदी से मदद की गुहार लगाई है।

दिल्ली AIIMS में इलाज कराने आए मरीज लॉकडाउन की वजह से फंसे, बयां किया अपना दर्द

टोक्यो से पीएम मोदी को लगाई गुहार
जापान के टोक्यो में फंसे जयपुर के कमल विजयवर्गीय के लिए लिए मुसीबतें बढ़ती ही जा रही है। उन्हें एक तरफ कोरोना का डर है तो वहीँ भूकंप और सुनामी के कारण वो छिप कर रहने को मजबूर हो गये हैं। उन्होंने अपनी मदद के लिए एक वीडियो जारी कर पीएम मोदी से मदद करने की अपील की है।

उन्होंने कहा, “मैं 18 मार्च को सिर्फ चार दिनों के लिए यहाँ आया था। अचानक लगे लॉकडाउन के कारण भारत नहीं लौट पा रहा हूं। यहां की स्थिति दूसरे देशों के मुक़ाबले ज्यादा भयावह है। यहां  कोविड-19 के मरीजों की संख्या 13,500 से ज्यादा है और अस्पतालों में बेड भर चुके हैं। अस्पतालों में जापानी मरीजों को ही एडमिट किया जा रहा है ऐसे में भारतीय के लिए यहां  इलाज करवाना बहुत मुश्किल है। ऊपर से यहां लगातार भूकंप  भी आ रहा है। पिछले एक सप्ताह में छोटे-बड़े करीब 11 भूकंप के झटके आ चुके हैं। एक तो कोविड-19 से परेशान हैं उस पर से भूकंप के कारण यहां जितने भी भारतीय हैं डरे हुए हैं। हमने सोशल मीडिया के जरिए भारत सरकार से, प्रधानमंत्री कार्यालय, जापान में इंडियन एंबेसी से भी संपर्क किया है, लेकिन अभी भी कोई मदद नहीं मिली है।“

भारत में इलाज न मिलने से हो जाती है 10 में से 7 कैंसर मरीजों की मौत,पढ़ें और भी फैक्ट

छात्रा ने भी मांगी मदद
वही, जापान में फंसी छात्रा ने वीडियो जारी कर बताया है कि उसके जैसे ही कई छात्र हैं जिनकी क्लासेज मार्च में ही खत्म हो गईं थी और अब उनका रेंट अग्रीमेंट भी खत्म हो चुका है। वो अभी होटल में रुकी हुई हैं लेकिन जल्द ही उन्हें वापस आना है इसके लिए छात्रा ने प्रधानमंत्री मोदी से मदद करने की
अपील की है।

प्रवासी मजदूरों की घर वापसी नहीं होगी आसान, राज्य सरकारों को बेलने पड़ेंगे कई पापड़

परिवार को तरस रही अम्बिली
इस बीच केरला से जापान के शहर कोकुबुंजी आकर फंसी अम्बिली प्रभा ने भी वीडियो जारी कर मदद के लिए हाथ बढ़ाया है। वो किसी काम के सिलसिले में जापान आई थी और भारत में लॉकडाउन के कारण उनकी फ्लाइट कैंसिल हो गई। वो केरल की रहने वाली है और अब वो अपने परिवार को लेकर बेहद परेशान हो रही हैं, उन्होंने भी पीएम नरेंद्र मोदी से मदद करने की अपील की है।

लॉकडाउन की दूसरी पारी भी होने वाली है समाप्त लेकिन भारत को इससे क्या मिला?

भूंकप का है डर
बता दें, पिछले दिनों जापान के पूर्वी तट के निकट 6.4 तीव्रता का भूकंप आया था। साथ ही, भूकंप और सुनामी पर काम करने वाले एक्सपर्ट्स के मुताबिक आने वाले दिनों में रिक्टर पैमाने पर 9 तीव्रता का भूकंप आ सकता है जो काफी भयावह होगा।

ज्ञात हो कि जापान में वर्ष 2011 में 9.0 तीव्रता के विनाशकारी भूकंप के बाद भयानक सुनामी आई थी और फुकुशिमा परमाणु संयंत्र से विकिरण रिसाव हुआ था। इस दौरान करीब 16,000 लोगों की मौत हो गई थी।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.