Friday, Oct 30, 2020

Live Updates: Unlock 5- Day 30

Last Updated: Fri Oct 30 2020 03:35 PM

corona virus

Total Cases

8,089,593

Recovered

7,371,898

Deaths

595,151

  • INDIA8,089,593
  • MAHARASTRA1,666,668
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA816,809
  • TAMIL NADU719,403
  • UTTAR PRADESH477,895
  • KERALA418,485
  • NEW DELHI375,753
  • WEST BENGAL365,692
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA288,646
  • TELANGANA235,656
  • BIHAR214,946
  • ASSAM205,635
  • RAJASTHAN193,419
  • CHANDIGARH183,588
  • CHHATTISGARH183,588
  • GUJARAT171,040
  • MADHYA PRADESH169,999
  • HARYANA163,817
  • PUNJAB132,727
  • JHARKHAND100,964
  • JAMMU & KASHMIR92,677
  • UTTARAKHAND61,566
  • GOA42,747
  • PUDUCHERRY34,482
  • TRIPURA30,290
  • HIMACHAL PRADESH21,476
  • MANIPUR17,604
  • MEGHALAYA8,677
  • NAGALAND8,296
  • LADAKH5,840
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,305
  • SIKKIM3,863
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,238
  • MIZORAM2,656
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
corona csir and ccmb research claims the whole world needs only one vaccine prshnt

कोरोना: CSIR और CCMB के शोध में दावा, पूरी दुनिया को एक ही वैक्सीन की है जरूरत

  • Updated on 9/25/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दुनिया में जारी कोरोना (Coronavirus) कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी बीच कोरोना संक्रमण को लेकर लगातार हो रहे शोध के नतीजे चौंकाने वाले सामने आए हैं। वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद(Council of Scientific and Industrial Research) के वैज्ञानिकों का कहना है कि भारत और दुनिया में पाए जा रहे कोरोना का क्लैड 70 प्रतिशत तक मिलता-जुलता है।

ऐसे में दुनिया भर में फैले वायरस की अनुवांशिक संरचना में समानता है और इसका अर्थ है कि इस नियंत्रण में करने के लिए अलग अलग वैक्सीन की जरूरत नहीं होगी।

J-K: अनंतनाग में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया, सर्च ऑपरेशन जारी

ट्रायल से गुजर रहे वैक्सीन वायरस को खत्म करने के लिए पर्याप्त होगी
बता दें कि सीएसआईआर की हैदराबाद स्थित प्रयोगशाला सेंटर फॉर सेलुलर एंड मॉलिक्यूलर-सीसीएमबी के वैज्ञानिकों द्वारा किए जा रहे अध्ययन में यह बात उभर कर सामने आई है। ऐसे हालातों में दुनिया भर में ट्रायल से गुजर रहे वैक्सीन या दवा इस वायरस को खत्म करने के लिए पर्याप्त होगी।

रिया की हाई कोर्ट से अपील - ड्रग्स पदार्थ मामले की जांच CBI करे, न कि NCB 

कोरोना वायरस का एटूए क्लैड सबसे अधिक कहर ढा रहा
वैज्ञानिकों के अनुसार बीमारियों के लिए जिम्मेदार वायरस अलग अलग क्लैड या अनुवांशिक समूह से संबंधित होते हैं। इसलिए वायरस के अलग-अलग अनुवांशिक समूहों को खत्म करने के लिए अलग अलग तरह की वैक्सीन की जरूरत होती है। कोरोना को लेकर शोध में पाया कि कोरोना वायरस का एटूए क्लैड सबसे अधिक कहर ढा रहा है।

कोरोना वायरस के जीनोम का अध्ययन कर रहे सीसीएमबी के वैज्ञानिकों का कहना है कि दुनिया में वायरल जीनोम में समानता का मतलब है कि ए टू ए क्लैड को नियंत्रित करने वाली कोई भी एक वैक्सीन या दवा पूरे विश्व में समान प्रभाव के साथ काम करेगी।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.